राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन लांच किया गया

केंद्र सरकार ने 23 फरवरी 2021 को ‘राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन’ लांचकिया है।

मुख्य बिंदु

  • राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन का शुभारंभ केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री, हरदीप सिंह पुरी और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री, रवि शंकर प्रसाद द्वारा किया गया था।
  • इस मिशन को लांच करते हुए, केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री ने कहा कि, यह मिशन वर्ष 2022 तक शहरों में शहरी शासन और शहरों में सेवा प्रदान करने के लिए नागरिक-केंद्रित और पारिस्थितिकी तंत्र द्वारा संचालित दृष्टिकोण को संस्थागत रूप देगा। ये सेवा
  • इस वर्चुअल इवेंट में स्मार्ट-कोड, इंडिया अर्बन डेटा एक्सचेंज (IUDX), स्मार्ट सिटीज़ 0 वेबसाइट और जियोस्पेशियल मैनेजमेंट इन्फॉर्मेशन सिस्टम (GMIS) जैसी पहल भी लांच की गईं।
  • “इंडियन अर्बन डेटा एक्सचेंज (IUDX)” पहल को भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), बेंगलुरु के साथ साझेदारी में स्मार्ट सिटीज मिशन द्वारा विकसित किया गया है।

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन

  • यह मिशन देश के सभी शहरों के लिए एक डिजिटल बुनियादी ढांचा तैयार करने के लिए शुरू किया गया था।
  • यह मिशन एक साझा डिजिटल बुनियादी ढांचा तैयार करने में मदद करेगा, जिसका उपयोग आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय की कई डिजिटल पहलों को समेकित करने के लिए किया जा सकता है।

भारत शहरी डेटा एक्सचेंज (IUDX)

यह एक ओपन-सोर्स सॉफ़्टवेयर प्लेटफ़ॉर्म है, जिसमें कई डेटा प्लेटफ़ॉर्म, डेटा उत्पादकों, थर्ड पार्टी एप्लिकेशन और उपभोक्ताओं के डेटा के सुरक्षित और प्रामाणिक विनिमय की सुविधा है। IUDX डेटा शेयरिंग के बारे में डेटा मालिकों को पूर्ण नियंत्रण प्रदान करेगा।

स्मार्ट सिटीज मिशन

यह एक शहरी नवीनीकरण और रेट्रोफिटिंग कार्यक्रम है जो पूरे भारत में स्मार्ट शहरों को विकसित करने का प्रयास करता है ताकि शहरों को नागरिक के अनुकूल और सतत बनाया जा सके। यह मिशन केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय द्वारा संबंधित राज्य सरकारों के सहयोग से कार्यान्वित किया जा रहा है। इसमें शुरुआत में 100 शहर शामिल थे।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments