रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट डेटा शेयरिंग में सहयोग पर ब्रिक्स देशों ने समझौते पर हस्ताक्षर किये

ब्रिक्स राष्ट्र- ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका ने रिमोट सेंसिंग उपग्रह डेटा साझाकरण में सहयोग के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।

मुख्य बिंदु

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) के अनुसार, यह सौदा ब्रिक्स राष्ट्र की अंतरिक्ष एजेंसियों को निर्दिष्ट रिमोट सेंसिंग उपग्रहों का एक वर्चुअल समूह बनाने में सक्षम करेगा, जिसके माध्यम से ग्राउंड स्टेशनों को डेटा प्राप्त होगा।
  • इस समझौते पर भारत की अध्यक्षता में 18 अगस्त, 2021 को हस्ताक्षर किए गए थे।

ब्रिक्स (BRICS)

ब्रिक्स राष्ट्र प्रमुख उभरती अर्थव्यवस्थाएं हैं जो क्षेत्रीय मामलों पर अपने महत्वपूर्ण प्रभाव के लिए जानी जाती हैं। ब्रिक्स के सदस्य देशों 2009 से औपचारिक शिखर सम्मेलनों में हिस्सा ले रहे हैं। 12वां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन नवीनतम संस्करण था जिसकी मेजबानी रूस ने 17 नवंबर, 2020 को वर्चुअली की थी।

ब्रिक्स का इतिहास

मूल रूप से, BRIC (ब्राजील, रूस, भारत और चीन) का एक समूह था। 2010 में दक्षिण अफ्रीका को ब्रिक्स में जोड़ा गया था।

ब्रिक्स का हिस्सा

ब्रिक्स राष्ट्रों का कुल क्षेत्रफल 39,746,220 वर्ग किमी है, जिसकी अनुमानित जनसंख्या लगभग 3.21 बिलियन है। क्षेत्रफल विश्व की भूमि की सतह का 26.656% है जबकि जनसंख्या विश्व जनसंख्या का 41.53% है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments