रूफटॉप सोलर प्रोग्राम फेज- II : मुख्य बिंदु

रूफटॉप सोलर प्रोग्राम फेज- II (Rooftop Solar Programme Phase-II) को नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है। इसके लिए दिशानिर्देश अगस्त 2019 में जारी किए गए थे। केंद्रीय वित्तीय सहायता (Central Financial Assistance – CFA) के माध्यम से आवासीय क्षेत्र में इस कार्यक्रम के तहत 4000 मेगावाट रूफटॉप सोलर (RTS) क्षमता वृद्धि का लक्ष्य रखा गया है।

मुख्य बिंदु 

  • RTS परियोजनाओं के लिए 3 kW क्षमता तक और RTS सिस्टम क्षमता के लिए 20% तक व्यक्तिगत घरों के लिए 3 kW से 10 kW तक, बेंचमार्क लागत का 40% तक CFA प्रदान किया जाता है।
  • Residential Welfare Associations और Group Housing Societies के लिए, 500 किलोवाट की अधिकतम क्षमता वाली सामान्य सुविधाओं के लिए CFA को 20% तक सीमित कर दिया गया है।
  • इसके अतिरिक्त, रूफटॉप सौर लागत का लगभग 10 प्रतिशत बेसलाइन से ऊपर क्षमता वृद्धि के आधार पर वितरण उपयोगिताओं को प्रोत्साहन के रूप में प्रदान किया जाता है।

क्षमता कैसे आवंटित की जाती है?

यह एक मांग-संचालित कार्यक्रम है और क्षमताओं को वितरण उपयोगिताओं (distribution utilities) और सरकारों की अन्य कार्यान्वयन एजेंसियों से प्राप्त मांग के आधार पर सौंपा गया है।

कितनी क्षमता आवंटित की गई है?

आवासीय क्षेत्र के लिए मंत्रालय ने अब तक 3162 मेगावाट की क्षमता आवंटित की है। 28 फरवरी, 2022 तक आवंटित क्षमता में से कुल 1252 मेगावाट क्षमता स्थापित होने की सूचना है । इस कार्यक्रम के तहत, विभिन्न बिजली वितरण निगमों को केंद्रीय वित्तीय सहायता के 1,132.74 करोड़ रुपये वितरित किए गए हैं।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments

  • Shameem Ahmed Ansari
    Reply

    I want 3kv RTS system