रूस ने S-500 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का परीक्षण किया

20 जुलाई, 2021 को रूस ने घोषणा की कि इसने देश की दक्षिणी प्रशिक्षण रेंज में सफलतापूर्वक अपनी नई हवा रक्षा मिसाइल प्रणाली S-500 का सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया है।

S-500 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली (S-500 Air Defence Missile Systems)

रूस ने घोषणा की कि S-500 दुनिया की सबसे उन्नत मिसाइल रोधी प्रणाली है और इसकी सीमा 600 किमी होने की उम्मीद है। यह मिसाइल प्रणाली अंतरिक्ष से होने वाले हमलों का मुकाबला करने में भी सक्षम है। इस मिसाइल प्रणाली का कपुस्टिन यार (Kapustin Yar) प्रशिक्षण मैदान में परीक्षण किया गया था और लाइव फायर अभ्यास आयोजित किया गया था। मिसाइलों ने उच्च गति वाले बैलिस्टिक लक्ष्य पर सफलतापूर्वक निशाना साधा। परीक्षणों के सफलतापूर्वक पूरा होने के बाद पहले S-500 सिस्टम जिन्हें ट्रायम्फेटर-एम (Triumfator-M) और प्रोमेथियस (Prometheus) भी कहा जाता है, को मॉस्को शहर के बाहर एक वायु रक्षा इकाई में रखा जाएगा।

S-500 वायु रक्षा मिसाइल प्रणाली का विकास

इस मिसाइल प्रणाली का विकास समय से वर्षों पीछे चल रहा है। सेना ने पहले घोषणा की थी कि सेना को वर्ष 2020 में पहला S-500 सिस्टम मिलना शुरू हो जाएगा।

रूस द्वारा किए गए अन्य परीक्षण

रूस ने घोषणा की कि उसने अपनी जिरकोन हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल (Zircon Hypersonic Cruise Missile) का एक और सफल परीक्षण किया है। जिरकोन रूस के शस्त्रागार का नया हिस्सा है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments