वज्र प्रहार : हिमाचल प्रदेश में किया गया भारत और अमेरिका के बीच सैन्य अभ्यास का आयोजन

अमेरिका और भारत के विशेष बलों के बीच हाल ही में हिमाचल प्रदेश में ‘वज्र प्रहार’ (Vajra Prahar) अभ्यास का आयोजन किया गया। यह अभ्यास हिमाचल प्रदेश के चंबा (Chamba) जिले के बकलोह (Bakloh) में आयोजित किया गया। गौरतलब है कि यह वज्र प्रहार अभ्यास का 11वां संस्करण था। इस अभ्यास का आयोजन बारी-बारी से अमेरिका और भारत में किया जाता है।

इस अभ्यास में दोनों देशों के बलों ने संयुक्त मिशन और परिचालन रणनीति जैसे क्षेत्रों में मिलकर काम किया। इस अभ्यास का मुख्य उद्देश्य दोनों देशों के बलों के बीच इंटरओपेराबिलिटी को बढ़ावा देना है।

भारत के विशेष बल (Special Forces of India)

भारतीय सेना के विशेष बल वे बल हैं जो भारतीय सेना की सीधी कमान के अधीन हैं। वे विशेष रूप से संगठित, प्रशिक्षित और सुसज्जित हैं। वे विशेष अभियानों का समर्थन करते हैं। विशेष अभियान कानून प्रवर्तन, सैन्य और खुफिया ऑपरेशन हैं जो अपरंपरागत तरीकों और स्रोतों का उपयोग करके किए जाते हैं। इन ऑपरेशनों का प्राथमिक लक्ष्य एक रणनीतिक या सैन्य उद्देश्य को प्राप्त करना है। अमेरिका अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए 2003 और 2012 के बीच विशेष अभियानों पर निर्भर था। विशेष अभियानों का उद्देश्य आतंकवादियों की पहचान करना और उन्हें मारना था।

विशेष बल 1966 में भारत-पाकिस्तान युद्ध, 1965 के बाद बनाया गया था। पैराशूट रेजिमेंट पहली विशेष संचालन इकाई थी। विशेष बल ऑपरेशन ब्लू स्टार, ऑपरेशन पवन, ऑपरेशन कैक्टस और कारगिल युद्ध में शामिल थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments