वित्त वर्ष 2022 में आसियान को भारत का निर्यात 46 अरब डॉलर होगा

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल के अनुसार, भारत द्वारा वित्तीय वर्ष 2022 में आसियान को 46 बिलियन अमरीकी डालर का निर्यात करने की संभावना है।

मुख्य बिंदु 

  • भारत-आसियान इंजीनियरिंग साझेदारी शिखर सम्मेलन (India-ASEAN Engineering Partnership Summit) का उद्घाटन 23 अगस्त, 2021 को हुआ।
  • यह विदेश मंत्रालय और वाणिज्य विभाग के सहयोग से इंजीनियरिंग निर्यात संवर्धन परिषद (Engineering Exports Promotion Council – EEPC) द्वारा आयोजित किया गया था।
  • उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए, मंत्री ने कहा कि, आसियान भारतीय निर्यात के लिए सबसे बड़े गंतव्यों में से एक है और वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 400 बिलियन  डालर के वैश्विक निर्यात लक्ष्य को पूरा करने में भारत के लिए एक महत्वपूर्ण क्षेत्र के रूप में कार्य करेगा।
  • भारत-आसियान व्यापार और निवेश पर एक ई-बुक भी लॉन्च की गई जो इंजीनियरिंग और MSME क्षेत्र पर जोर देती है।
  • वर्ष 2021 भारत-आसियान संवाद साझेदारी की 25वीं वर्षगांठ और सामरिक साझेदारी के 10 वर्ष का प्रतीक है ।

पृष्ठभूमि

वित्त वर्ष 2021-22 के लिए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 400 बिलियन डालर के व्यापारिक निर्यात का लक्ष्य रखा है। उन्होंने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए रोडमैप भी तैयार किया है। आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत, केंद्र सरकार ने हाल ही में 26 बिलियन अमरीकी डालर की उत्पादन-लिंक्ड प्रोत्साहन (PLI) योजना को मंजूरी दी है। इसमें निवेश को आकर्षित करने और भारत की विनिर्माण क्षमताओं को बढ़ाने के लिए फार्मास्यूटिकल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, सौर मॉड्यूल, ऑटोमोबाइल, विशेष स्टील और चिकित्सा उपकरणों जैसे 13 क्षेत्रों को शामिल किया गया है।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments