वैश्विक पवन रिपोर्ट 2021 (Global Wind Report-2021) जारी की गयी

ग्लोबल विंड एनर्जी काउंसिल (Global Wind Energy Council – GWEC) द्वारा 25 मार्च, 2021 को ग्लोबल विंड रिपोर्ट 2021 प्रकाशित की गई थी।

मुख्य बिंदु

हालाँकि, 2020 वैश्विक पवन ऊर्जा उद्योग के लिए एक रिकॉर्ड वर्ष था, लेकिन यह रिपोर्ट चेतावनी देती है कि वैश्विक जलवायु लक्ष्यों को प्राप्त करने और ग्लोबल वार्मिंग को 2°C से लाने के लिए अगले दशक तक तीन गुना तेजी से नई पवन ऊर्जा क्षमता स्थापित करने की आवश्यकता है। वर्ष 2020 में, 93 GW नई क्षमता स्थापित की गई। यह साल-दर-साल 53% की वृद्धि है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • इस रिपोर्ट के अनुसार, कुल वैश्विक पवन ऊर्जा क्षमता अब 743GW तक है।यह दुनिया को सालाना 1 बिलियन टन CO2 से बचने में मदद कर रहा है। यह दक्षिण अमेरिका के वार्षिक कार्बन उत्सर्जन के बराबर है।
  • इस रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि जलवायु परिवर्तन के सबसे बुरे प्रभावों से बचने के लिए दुनिया को प्रति वर्ष कम से कम 280 गीगावॉट नई पवन ऊर्जा स्थापित करने की आवश्यकता है।इस प्रकार, उद्योग और नीति निर्माताओं को तेजी से कार्य करने की आवश्यकता है।
  • इसमें कहा गया है कि दुनिया भर की सरकारों को लालफीताशाही और योजना में देरी को खत्म करने के लिए ‘जलवायु आपातकाल’ के दृष्टिकोण के साथ काम करना चाहिए।
  • पवन ऊर्जा शुद्ध शून्य उत्सर्जन लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक आधारशिला है।

जलवायु आपातकालीन दृष्टिकोण (Climate Emergency Approach)

GWEC ने नीति निर्माताओं को लालफीताशाही को खत्म करने और प्रशासनिक ढांचे को गति देने और परियोजनाओं के लिए लाइसेंसिंग और परमिट को कारगर बनाने के लिए ‘जलवायु आपातकालीन’ दृष्टिकोण अपनाने के लिए कहा है। इसने ग्रिड, बंदरगाहों और अन्य अवसंरचना में निवेश बढ़ाने के लिए भी कहा है।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments