संयुक्त राष्ट्र ने अफ्रीकी मूल के लोगों का स्थायी मंच (Permanent Forum of People of African Descent) बनाया

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने 2 अगस्त, 2021 को अफ्रीकी मूल के लोगों का एक स्थायी मंच (Permanent Forum of People of African Descent) स्थापित करने के लिए एक प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

मुख्य बिंदु 

  • लोगों का यह स्थायी मंच नस्लवाद, ज़ेनोफोबिया, नस्लीय भेदभाव और असहिष्णुता की चुनौतियों का समाधान करने में विशेषज्ञ सलाह प्रदान करेगा।
  • 193 सदस्यीय विश्व निकाय द्वारा सर्वसम्मति से प्रस्ताव को अपनाया गया था।

पृष्ठभूमि

इस फोरम की स्थापना अफ्रीकी मूल के लोगों के लिए अंतर्राष्ट्रीय दशक के दौरान हुई है जिसे महासभा द्वारा स्थापित किया गया था और यह 1 जनवरी 2015 को शुरू हुआ था। यह 31 दिसंबर, 2024 को समाप्त होगा। यह मान्यता, न्याय और विकास जैसे विषयों पर केंद्रित है।

इस मंच की स्थापना क्यों की गई?

इस मंच की स्थापना गुलामी पर चिंता की पृष्ठभूमि में की गई थी। दस्तावेज़ ने दासता के कारण हुई मानवीय पीड़ा पर गहरा खेद व्यक्त किया है। इसने स्वीकार किया कि दास व्यापार और दासता मानवता के विरुद्ध अपराध हैं।

फोरम के सदस्य

नए फोरम में 10 सदस्य होंगे, जिनमें से 5 सभी क्षेत्रों से महासभा द्वारा चुने जाएंगे और 5 को मानवाधिकार परिषद द्वारा क्षेत्रीय समूहों के साथ-साथ अफ्रीकी मूल के लोगों के संगठनों के परामर्श से नियुक्त किया जाएगा।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments