सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने नए ऋणों की घोषणा की

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSB) ने कोविड -19 महामारी के आर्थिक प्रभाव को कम करने के लिए समर्थन उपायों और नए ऋण उत्पादों को लॉन्च करने की घोषणा की है।

घोषणाएं

  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक (PSB व्यक्तियों को 5 लाख रुपये तक का असुरक्षित ऋण प्रदान करेंगे। इसऋण का उपयोग उनके और परिवार के सदस्यों के उपचार लागत को पूरा करने के लिए किया जा सकता है।
  • भारतीय बैंक संघ (Indian Banks Association) और भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) ने मुंबई में तीन नए ऋण उत्पादों की घोषणा की।
  • मुंबई में ऋण की घोषणा आरबीआई और भारत सरकार द्वारा किए गए उपायों के आधार पर की गई है।
  • यह वैक्सीन निर्माताओं, अस्पतालों या औषधालयों, ऑक्सीजन के निर्माताओं और आपूर्तिकर्ताओं, पैथोलॉजी लैब, वेंटिलेटर, टीका आयातकों, कोविड दवाओं की लॉजिस्टिक्स फर्मों और उपचार के लिए रोगियों को नए सिरे से ऋण सहायता प्रदान करेगा।
  • दो अन्य ऋणों में शामिल हैं- 2 करोड़ रुपये तक का हेल्थकेयर बिजनेस लोन और 100 करोड़ रुपये तक की हेल्थकेयर सुविधाओं के लिए बिजनेस लोन।
  • Emergency Credit Line Guarantee Scheme (ECGLS) के तहत ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए हेल्थकेयर बिजनेस लोन दिया जाएगा।
  • हेल्थकेयर सुविधाओं के लिए लोन हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थापना या विस्तार और हेल्थकेयर उत्पाद निर्माताओं को प्रदान किया जाएगा।

ऋण चुकौती (Repayment of Loan)

IBA और SBI ने घोषणा की, सभी वेतनभोगी, गैर-वेतनभोगी और पेंशनभोगी व्यक्ति COVID-19 उपचार की देखभाल के लिए ₹25,000 से ₹​​5 लाख तक का असुरक्षित व्यक्तिगत ऋण प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए चुकौती अवधि 5 वर्ष है। एसबीआई सालाना 8.5 फीसदी का ब्याज वसूल करेगा और अन्य बैंक भी अपनी ब्याज दर तय कर सकते हैं।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments