सुरक्षा पर कैबिनेट समिति ने 56 परिवहन विमानों की खरीद को मंजूरी दी

सुरक्षा पर कैबिनेट समिति (Cabinet Committee on Security – CCS) ने 8 सितंबर, 2021 को एयरबस से 56 परिवहन विमानों की खरीद को मंजूरी दे दी है।

मुख्य बिंदु

  • यह निर्णय भारतीय वायु सेना के परिवहन बेड़े को एक बड़ा प्रोत्साहन प्रदान करेगा।
  • C-295MW परिवहन विमान खरीदने के इस सौदे पर 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का खर्च आएगा।
  • इनमें से पहले 16 विमान अनुबंध पर हस्ताक्षर करने के 48 महीनों के भीतर स्पेन से उड़ान भरने की स्थिति में डिलीवर किए जाएंगे।
  • शेष 40 विमानों का निर्माण भारत में 10 वर्षों में टाटा समूह के नेतृत्व में एक संघ द्वारा किया जाएगा।

सौदे का महत्व

यह भारत में अपनी तरह का पहला सौदा है। सभी विमान स्वदेशी इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट के साथ बनाये जाएंगे। इस प्रकार, स्वदेशी क्षमताओं को मजबूत करने के लिए यह एक अनूठी पहल है। यह परियोजना भारत में एयरोस्पेस पारिस्थितिकी तंत्र को बढ़ावा देगी क्योंकि भारत में कई MSMEs इन विमानों के कुछ हिस्सों के निर्माण में शामिल होंगे। यह सौदा भारतीय निजी क्षेत्र को प्रौद्योगिकी गहन और अत्यधिक प्रतिस्पर्धी विमानन उद्योग में प्रवेश करने का अवसर भी प्रदान करेगा।

C-295MW विमान वायुसेना के एवरो विमान की जगह लेगा। एवरो एयरक्राफ्ट ब्रिटिश मूल के ट्विन-इंजन टर्बोप्रॉप, सैन्य परिवहन और 6 टन की माल ढुलाई क्षमता वाले मालवाहक हैं।

C-295MW विमान 

C-295MW एक परिवहन विमान है जिसकी क्षमता 5-10 टन है। इसमें भारतीय वायुसेना के पुराने हो रहे एवरो विमान को बदलने के लिए समकालीन तकनीक भी शामिल है। इसमें त्वरित प्रतिक्रिया और सैनिकों और कार्गो के पैरा-ड्रॉपिंग के लिए एक रियर रैंप दरवाजा भी शामिल है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments

  • Anurag
    Reply

    Nice