स्किल इंडिया मिशन (Skill India Mission) के 6 साल पूरे हुए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 जुलाई 2021 को विश्व युवा कौशल दिवस 2021 और स्किल इंडिया मिशन की छठी वर्षगांठ के अवसर पर राष्ट्र को संबोधित किया।

मुख्य बिंदु 

  • अपने संबोधन में, प्रधानमंत्री मोदी ने “नई पीढ़ी के युवाओं का कौशल विकास एक राष्ट्रीय आवश्यकता और आत्मनिर्भर भारत के लिए एक बड़ी नींव” पर प्रकाश डाला।
  • पीएम के मुताबिक स्किल इंडिया मिशन के तहत अब तक 1.25 करोड़ युवाओं को ट्रेनिंग दी जा चुकी है।

कौशल विकास के लिए शुरू किए जाने वाले कार्यक्रम

  • पीएम मोदी ने 75 नए स्वीकृत जन शिक्षण संस्थान और जन शिक्षण संस्थान के लिए पोर्टल की घोषणा की, जो न्यूनतम लागत पर व्यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने में मदद करेगा।
  • जन शिक्षण संस्थान और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग (NIOS) के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।
  • देश के युवाओं को ध्यान में रखते हुए एक पुस्तिका का विमोचन कर मिश्रित शिक्षण पाठ्यक्रमों की भी घोषणा की जाएगी।
  • प्रशिक्षण महानिदेशालय (DGT) द्वारा 57 उद्योग नए पाठ्यक्रम शुरू किये जायेंगे। 
  • राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण परिषद (NCVET) और डिजिलॉकर के बीच एक और समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।

स्किल इंडिया मिशन (Skill India Mission) 

उद्योग से संबंधित विभिन्न नौकरियों में 40 करोड़ से अधिक भारतीयों को प्रशिक्षित करने के लिए सरकार द्वारा स्किल इंडिया मिशन पहल शुरू की गई थी। इस मिशन के तहत, सरकार कई योजनाओं और प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों की मदद से 2022 तक एक सशक्त कार्यबल बनाना चाहती है।

जन शिक्षण संस्थान (JSS)

ग्रामीण क्षेत्रों में गैर-साक्षर, नव-साक्षर और स्कूल छोड़ने वालों को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से जन शिक्षण संस्थान शुरू किए गए थे। उस क्षेत्र में बाजार के लिए प्रासंगिक कौशल की पहचान करके व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। 

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments