हबल टेलीस्कोप (Hubble Telescope) ने प्रॉन नेबुला (Prawn Nebula) का अवलोकन किया

हबल टेलीस्कोप (Hubble Telescope) ने “प्रॉन नेबुला” देखा है, जो स्कॉर्पियस नक्षत्र में लगभग 6,000 प्रकाश-वर्ष दूर स्थित एक विशाल तारकीय नर्सरी (massive stellar nursery) है।

मुख्य बिंदु

  • खगोलविद प्रॉन नेबुला को एक उत्सर्जन नीहारिका (emission nebula) के रूप में वर्गीकृत करते हैं, जिसका अर्थ है कि पड़ोसी सितारों के विकिरण द्वारा इसकी गैस को सक्रिय या आयनित किया गया है।
  • इन विशाल तारों से निकलने वाला विकिरण नीहारिका (nebula) के हाइड्रोजन परमाणुओं से इलेक्ट्रॉनों को ग्रहण करता है।

नेबुला कैसे प्रकाश उत्सर्जित करता है?

जब सक्रिय इलेक्ट्रॉन हाइड्रोजन नाभिक के साथ मिलकर उच्च-ऊर्जा अवस्था से अपनी निम्न-ऊर्जा अवस्था में जाते हैं, तो वे प्रकाश के रूप में ऊर्जा का उत्सर्जन करते हैं, जो बदले में नेबुला की गैस को चमकने का कारण बनता है। हाल ही में हबल छवि में, लाल रंग में आयनित लोहे के उत्सर्जन की उपस्थिति का संकेत दिया गया था।

प्रॉन नेबुला (Prawn Nebula)

प्रॉन नेबुला को IC 4628 भी कहा जाता है। यह आकाशगंगा की धनु भुजा में स्थित एक उत्सर्जन नीहारिका है। स्कॉर्पियस नक्षत्र में पृथ्वी से इसकी दूरी लगभग 6,000 प्रकाश वर्ष है। यह नेबुला उज्ज्वल खुले क्लस्टर एनजीसी 6231 द्वारा लंगर डाले “False Comet” की पूंछ का हिस्सा है। ऑस्ट्रेलियाई खगोलशास्त्री कॉलिन गम के सम्मान में इस नेबुला को गम 56 भी कहा जाता है। गम ने 1955 में HII क्षेत्रों की एक सूची प्रकाशित की थी।

उत्सर्जन नीहारिका (Emission Nebula) क्या है?

उत्सर्जन नीहारिका आयनित गैसों से बनी होती है जो विभिन्न तरंग दैर्ध्य के प्रकाश का उत्सर्जन करती है। आयनीकरण का सबसे आम स्रोत उच्च-ऊर्जा पराबैंगनी फोटॉन हैं जो आस-पास के गर्म सितारों से उत्सर्जित होते हैं।

हबल अंतरिक्ष टेलीस्कोप

हबल स्पेस टेलीस्कोप को 1990 में लो अर्थ ऑर्बिट में लॉन्च किया गया था। इसका नाम खगोलशास्त्री एडविन हबल के नाम पर रखा गया है।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments