हुरुन ग्लोबल 500 सूची में 11 भारतीय कंपनियों को शामिल किया गया

हाल ही में हुरुन ग्लोबल 500 की रिपोर्ट  जारी की गई है। इस रिपोर्ट के अनुसार, 11 निजी भारतीय कंपनियों को दुनिया की 500 सबसे मूल्यवान कंपनियों की सूची में शामिल किया गया है। 

मुख्य बिंदु

इस सूची में 11 कंपनियों के साथ भारत 10वें स्थान पर है। इस सूची में शामिल 11 भारतीय कंपनियों में 14% की वृद्धि दर्ज की गयी है और इनका मूल्य 805 बिलियन डॉलर है। इस सूची में भारतीय कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे ऊपर है,1 दिसंबर, 2020 तक मूल्यांकन में 20.5% की वृद्धि हुई है, इसका मूल्यांकन 168.8 बिलियन डॉलर है। हुरुन 500 सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज की वैश्विक रैंक 54वीं है।

इस सूची में दूसरी सबसे मूल्यवान भारतीय कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) है। इसका मूल्य 139 बिलियन डॉलर है, इसमें 30% की वृद्धि दर्ज की गयी है। इस सूची में टीसीएस को 73वां स्थान दिया गया है। एचडीएफसी बैंक का मूल्यांकन 11.5% बढ़कर $ 107.5 बिलियन हो गया है। हिंदुस्तान लीवर का मूल्यमें 3.3% की वृद्धि के साथ 68.2 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया है।

इन्फोसिस का मूल्य 56.6% की वृद्धि के साथ 66 बिलियन डॉलर तक पहुँच गया है। एचडीएफसी लिमिटेड का मूल्य 56.4 बिलियन तक पहुँच गया और इसमें 2.1% की वृद्धि हुई है। कोटक महिंद्रा बैंक मूल्यांकन में 16.8% की वृद्धि के साथ 50.6 बिलियन डॉलर पर है।

ICICI बैंक  का मूल्य 45.6 बिलियन तक पहुँच गया है, इसमें 0.5% की कमी आई है। वैश्विक रैंकिंग में आईसीआईसीआई बैंक को 316वें स्थान पर रखा गया है। आईटीसी का मूल्यांकन 22% घटकर $ 32.6 बिलियन तक पहुंच गया  है और यह सूची में यह 480वें स्थान पर है।

हुरुन की इस सूची में एप्पल सबसे ऊपर है। एप्पल का मूल्यांकन 2.1 ट्रिलियन डॉलर है। एप्पल के बाद माइक्रोसॉफ्ट और अमेज़न का मूल्यांकन $ 1.6 ट्रिलियन डॉलर है। इस सूची में 242 अमेरिकी कंपनियां, 51 चीनी कंपनियां और 30 जापानी कंपनियां शामिल हैं।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments