1 अप्रैल: ओडिशा राज्य दिवस (Odisha Statehood Day or Utkala Dibasa)

हर साल, ओडिशा राज्य 1 अप्रैल को उत्कल दिवस (Utkala Dibasa) मनाता है। इस उत्सव की परंपरा को 84 वर्षों से मनाया जा रहा है। ओडिशा देश का नौवां सबसे बड़ा राज्य है, यह खनिज संसाधनों से समृद्ध है। यह पूरे देश में फैले कई उद्योगों को कच्चे माल जैसे कोयला, लौह अयस्क का प्रमुख आपूर्तिकर्ता है।

मुख्य बिंदु

ओडिशा राज्य की स्थापना 1 अप्रैल, 1936 को हुई थी। इसे 1 अप्रैल, 1936 को ब्रिटिश भारत के एक प्रांत के रूप में स्थापित किया गया था। इसे उड़ीसा नाम दिया गया था। 4 नवंबर, 2011 को अंग्रेजी नाम बदलकर ओडिशा कर दिया गया।

इतिहास

तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व में इस राज्य महान सम्राट अशोक का शासन था। बाद में इस पर हर्ष जैसे कई अन्य राजाओं ने शासन किया। 8वीं शताब्दी के दौरान राज्य कोसल और उत्कल राज्य के रूप में जाना जाता था। वर्तमान में ओडिशा के राज्य दिवस को “उत्कल दिवस” (Utkal Divas) ​​के रूप में मनाया जाता है। बाद में 16वीं शताब्दी में, बंगाल की सल्तनत ने ओडिशा पर कब्जा कर लिया था। 18वीं शताब्दी के मध्य में ओडिशा मराठों के शासन में था। बाद में कर्नाटक युद्धों के बाद, यह ब्रिटिश के मद्रास प्रेसीडेंसी के शासन में आया।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments