1 अप्रैल से शुरू होगा अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) के लिए तीर्थयात्रियों का पंजीकरण

दक्षिण कश्मीर में अमरनाथ गुफा के लिए तीर्थयात्रा के लिए पंजीकरण 1 अप्रैल से शुरू होगा। यह यात्रा 22 अगस्त को समाप्त होगी। इस वर्ष ये यात्रा 56 दिनों तक चलेगी।

मुख्य बिंदु

इस साल यह तीर्थ यात्रा 28 जून को पहलगाम और बालटाल दोनों  मार्गों से शुरू होगी। यह खुलासा श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (Shri Amarnathji Shrine Board) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नीतीश्वर कुमार ने किया। उन्होंने कहा, पूरे देश में पंजाब नेशनल बैंक, जम्मू और कश्मीर बैंक और यस बैंक की 446 नामित बैंक शाखाओं के माध्यम से पंजीकरण किया जाएगा।

पंजीकरण के लिए प्रक्रिया के बारे में विवरण, आवेदन पत्र और बैंक की शाखाओं की राज्यवार सूची पूरे पते के साथ बोर्ड की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। यात्रियों के लिए स्वास्थ्य प्रमाण पत्र अनिवार्य हैं क्योंकि यह मंदिर बहुत ऊंचाई पर है और यात्रा कठिन है। इस यात्रा  के लिए केवल 15 मार्च के बाद जारी किए गए स्वास्थ्य प्रमाणपत्र मान्य होंगे। यात्रा के लिए पंजीकरण करने के लिए यात्रियों को जिन चरणों का पालन करना होगा, उन्हें बोर्ड की वेबसाइट www.shriamarnathjishrine.com पर डाल दिया गया है। 13 वर्ष से कम या 75 वर्ष से अधिक आयु के लोग और छह सप्ताह से अधिक गर्भवती महिलाओं को इस वर्ष की यात्रा के लिए COVID-19 मानदंडों के अनुसार पंजीकृत नहीं किया जाएगा।

अमरनाथ मंदिर

अमरनाथ गुफा मंदिर एक प्रसिद्ध हिन्दू तीर्थस्थल है, यह जम्मू-कश्मीर में अनंतनाग जिले में स्थित है। यह मंदिर भगवान् शिव को समर्पित है। यह मंदिर 3,888 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। अमरनाथ मंदिर को 51 शक्ति पीठों में से एक माना जाता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments