11 मई : राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day)

भारत की तकनीकी प्रगति को याद दिलाने के लिए हर साल 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day) मनाया जाता है।

11 मई को ही क्यों?

11 मई को, भारत ने अपनी पहली सफल शक्ति-I (Shakti-I) परमाणु मिसाइल का परीक्षण किया था। इस मिसाइल का परीक्षण भारतीय सेना ने पोखरण टेस्ट रेंज, राजस्थान में किया गया था। इस ऑपरेशन को “ऑपरेशन शक्ति” कहा जाता था। शक्ति- I परमाणु मिसाइल के परीक्षण के बाद, भारत ने दो परमाणु हथियारों का सफलतापूर्वक परीक्षण भी किया था।

11 मई के दिन ही DRDO (रक्षा अनुसंधान विकास संगठन) ने त्रिशूल मिसाइल (Trishul missile) का परीक्षण पूरा किया था। यह हंस-3 (Hansa-3) नामक पहले स्वदेशी विमान की उड़ान को भी चिह्नित करता है।

ऑपरेशन शक्ति (Operation Shakti)

ऑपरेशन शक्ति के पहले चरण का कोड नाम “स्माइलिंग बुद्धा” (Smiling Buddha) था। यह मई 1974 में आयोजित किया गया था। दूसरा परमाणु परीक्षण, 1998 में आयोजित ऑपरेशन शक्ति के दूसरे चरण को पोखरण II भी कहा जाता था और यह परमाणु बमों की 5 परीक्षणों की एक श्रृंखला थी। इसका नेतृत्व दिवंगत राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था। इस सफल परीक्षण के बाद, पीएम वाजपेयी ने भारत को पूर्ण परमाणु राज्य घोषित किया था।

इन परमाणु परीक्षणों के बाद भारत के खिलाफ कई प्रतिबंध लगाए गये थे। भारत पर प्रतिबंध लगाने वाले प्रमुख देश अमेरिका और जापान थे।

Categories:

Tags: , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments