2-18 साल के बच्चों में आपातकालीन उपयोग के लिए कोवैक्सिन (Covaxin) को मंजूरी दी गई

कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति ने 2-18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए भारत बायोटेक के कोवैक्सिन वैक्सीन के “आपातकालीन उपयोग” को मंजूरी दे दी है।

मुख्य बिंदु

  • सितंबर के महीने में 18 साल से कम उम्र के बच्चों पर हैदराबाद बेस्ड भारत बायोटेक द्वारा कोवैक्सिन वैक्सीन के चरण-2 और चरण-3 का परीक्षण किया गया था।
  • परीक्षण डेटा अक्टूबर 2021 में ड्रग्स एंड कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) को प्रस्तुत किया गया था।
  • एम्स के प्रोफेसर के अनुसार, नवीनतम परीक्षणों से पता चलता है कि भारत के स्वदेशी COVID-19 वैक्सीन की सुरक्षा और प्रतिरक्षण क्षमता 2-18 वर्ष की आयु के बच्चों में लगभग समान है, जैसी यह 18 वर्ष से अधिक उम्र के वयस्कों में है।
  • बच्चों को तीन ग्रुप में बांटकर ट्रायल किया गया। पहला समूह 12-18 वर्ष के बीच, दूसरा समूह 6-12 वर्ष के बीच जबकि तीसरा समूह 2-6 वर्ष के बीच था।

Covaxin 

Covaxin का कोडनेम BBV152 है। यह एक निष्क्रिय वायरस-आधारित COVID-19 वैक्सीन है। इसे भारत बायोटेक द्वारा भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के सहयोग से विकसित किया गया था। भारत बायोटेक ने बताया कि कोवैक्सिन स्पर्शोन्मुख मामलों के खिलाफ 64% प्रभावी है, रोगसूचक मामलों के खिलाफ 78% प्रभावी है, गंभीर संक्रमण के खिलाफ 93% प्रभावी है जबकि कोरोनावायरस के डेल्टा संस्करण के खिलाफ 65% प्रभावी है।

 

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments