20 अगस्त: विश्व मच्छर दिवस (World Mosquito Day)

मच्छरों से होने वाली बीमारियों के बारे में जागरूकता और सतर्कता बढ़ाने के लिए 20 अगस्त को विश्व मच्छर दिवस 2021 मनाया गया। यह दिन सर रोनाल्ड रॉस (Sir Ronald Ross) की स्मृति में भी मनाया जाता है है जिन्होंने मादा मच्छरों और मलेरिया के बीच एक कड़ी की खोज की थी।

मुख्य बिंदु 

  • आकार में बहुत छोटे या छोटे होने के बावजूद, मच्छर इतिहास में एकमात्र शिकारी हैं जो सदियों से जीवित हैं। यह मलेरिया जैसी वेक्टर जनित बीमारियों से मौत का कारण बनते है।
  • खतरनाक बीमारी के कारण मच्छरों को दुनिया की सबसे घातक प्रजाति माना जाता है। इसकी वजह से हर साल करीब 7 लाख लोगों की जान जाती है।

विश्व मच्छर दिवस 2021 की थीम

वर्ष 2021 में, विश्व मच्छर दिवस “शून्य-मलेरिया लक्ष्य तक पहुंचना” की थीम  के तहत मनाया गया।

विश्व मच्छर दिवस की पृष्ठभूमि

मलेरिया पर अपनी खोज के लिए सर रोनाल्ड रॉस की स्मृति में यह दिन मनाया जाता है। वर्ष 1897 में, ब्रिटिश डॉक्टर सर रोनाल्ड रॉस ने पता लगाया था कि एनोफिलीज (Anopheles) नामक मादा मच्छर मनुष्यों के बीच मलेरिया परजीवी संचारित करते हैं। उन्होंने पाया कि मलेरिया परजीवी फैलाने के लिए मादा एनोफिलीज मच्छर जिम्मेदार हैं। इससे व्यक्ति की जान भी जा सकती है। यह खोज 20 अगस्त को की गई थी। इस प्रकार, 1930 के दशक से 20 अगस्त को मच्छर दिवस मनाया जाता है।

 

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments