2014 MH17 क्रेश में रूस की कथित भूमिका पर कानूनी कारवाई करेंगे ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड

ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड ने सात साल से अधिक समय पहले पूर्वी यूक्रेन में मलेशियाई एयरलाइंस के विमान MH 17 को मार गिराने में रूस की कथित भूमिका को लेकर रूस के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का फैसला किया है।

MH17 क्रैश

  • 2014 में, मलेशिया एयरलाइंस की उड़ान MH17 पूर्वी यूक्रेन के डोनेट्स्क क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी।
  • MH17 विमान एम्सटर्डम (नीदरलैंड) और कुआलालंपुर (मलेशिया) के बीच उड़ान भर रहा था। जब विमान पूर्वी यूक्रेन के हवाई क्षेत्र में था तो वह एक मिसाइल से टकरा गया।
  • जब 17 जुलाई, 2014 को विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ, तो उसमें सवार सभी 298 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की मौत हो गई।
  • MH17 विमान में 38 ऑस्ट्रेलियाई, 43 मलेशियाई और 196 डच नागरिक थे।

रूस की भूमिका

आरोप है कि जिस मिसाइल से विमान को निशाना बनाया गया, उसे रूस ने दागा था। उस समय क्रीमिया पर रूस का कब्जा था और यूक्रेन और रूस समर्थक अलगाववादी विद्रोहियों के बीच गृहयुद्ध चल रहा था। हालांकि, रूस ने हमेशा 2014 MH17 विमान दुर्घटना में किसी भी तरह की भूमिका निभाने से इनकार किया है। 2020 में, नीदरलैंड के जांचकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला कि MH17 विमान पूर्वी यूक्रेन में रूसी समर्थक विद्रोहियों द्वारा संचालित सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल से टकराया था।

कानूनी कार्रवाई

अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन पर कन्वेंशन के अनुच्छेद 84 के तहत ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड ने अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (ICAO) के समक्ष कानूनी कार्यवाही शुरू की। अनुच्छेद 84 के अनुसार, जब देशों के बीच असहमति होती है, तो मुद्दों को सुलझाने के लिए मतदान किया जाता है।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments