2021 भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (Corruption Perceptions Index) जारी किया गया

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International) ने हाल ही में भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (Corruption Perceptions Index) जारी किया है। इस सूचकांक के अनुसार विश्व के देशों में भारत 85वें स्थान पर है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि एक दशक से भारत के लिए भ्रष्टाचार का स्कोर स्थिर रहा है। 

मुख्य बिंदु 

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International) ने रैंकिंग में 180 देशों को शामिल किया है। यह रैंकिंग देशों के सार्वजनिक क्षेत्र में भ्रष्टाचार के आधार पर बनाई गई है। इसके आधार पर भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक की गणना की जाती है। यहां शून्य का मतलब बेहद भ्रष्ट है, 100 के स्कोर का मतलब है कि देश स्वच्छ है। भारत ने इस सूचकांक में 40 अंक हासिल किये गये।

रैंकिंग में भारत

  • भारत ने 2020 में रैंकिंग में 86वें स्थान पर था। 2019 में भारत 80वें स्थान पर था।

पाकिस्तान 

इस सूचकांक में 28 के स्कोर के साथ पाकिस्तान 140वें स्थान पर है। पाकिस्तान मुख्य रूप से कानून के शासन की अनुपस्थिति के कारण खराब प्रदर्शन कर रहा है। 2020 में, पाकिस्तान 124वें स्थान पर था। 2020 में पाकिस्तान का स्कोर 31 था।

बांग्लादेश

बांग्लादेश ने 26 अंक हासिल किये और 147वें स्थान पर रहा।

भारत का सापेक्षिक प्रदर्शन

  • 2012 के बाद से लगभग 86% देशों ने बहुत कम या कोई सुधार नहीं दिखाया है। भारत उनमें से एक था। 2012 में भारत 94वें स्थान पर था।
  • इस सूचकांक में डेनमार्क सबसे ऊपर है और उसके बाद न्यूजीलैंड का स्थान है। उनका स्कोर 88 के आसपास था।

एशिया प्रशांत

इस क्षेत्र के लगभग 70% देशों को 50 से नीचे स्थान दिया गया था। हालांकि, इस क्षेत्र के प्रमुख देशों चीन और भारत ने खराब स्कोर किया है। श्रीलंका एकमात्र ऐसा देश था जिसके प्रदर्शन में 2012 की तुलना में सुधार नहीं हुआ।

दुनिया के देशों के बारे में रिपोर्ट

  • सेशेल्स और आर्मेनिया ने अपने स्कोर में सबसे बड़ा सुधार किया।
  • इटली, ब्रिटेन, अर्जेंटीना, ऑस्ट्रिया, चीन ने अपने स्कोर में सुधार किया है।

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International)

यह एक गैर-सरकारी संगठन है। इसकी स्थापना 1993 में हुई थी। इसका मुख्यालय बर्लिन, जर्मनी में स्थित है। यह भ्रष्टाचार के उपायों के खिलाफ कार्रवाई करने, आपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए काम करता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments