2025 तक भारत का फिनटेक उद्योग 150-160 अरब डॉलर तक पहुँच सकता है: फिक्की-बीसीजी की रिपोर्ट

फेडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप (बीसीजी) ने ‘India FinTech: A USD 100 Billion Opportunity’ रिपोर्ट जारी की है।

मुख्य बिंदु

यह रिपोर्ट बीसीजी और फिक्की द्वारा किए गए अध्ययन के निष्कर्षों पर प्रकाश डालती है।

भारत में फिनटेक उद्योग

भारत में फिनटेक उद्योग तेजी से बढ़ रहा है। फिनटेक कंपनियां वित्तीय सेवा उद्योग के विभिन्न क्षेत्रों में अपने व्यापार मॉडल को फिर से परिभाषित कर रही हैं। वे सेवा वितरण में सुधार करने में भी मदद कर रहे हैं और डिजिटल वित्तीय समावेशन में भी योगदान दे रहे हैं। भारत के गतिशील फिनटेक उद्योग में 2100 से अधिक फिनटेक कंपनियां हैं, जिनमें से 67% पिछले 5 वर्षों में स्थापित की गयी हैं। इस उद्योग का कुल मूल्य $50- $60 बिलियन है। इस उद्योग की वृद्धि महामारी से प्रभावित नहीं हुई है।

भारतीय फिनटेक का अंतर्राष्ट्रीयकरण

इस रिपोर्ट में भारतीय फिनटेक के अंतर्राष्ट्रीयकरण की थीम भी शामिल है। बीसीजी-फिक्की ने फिनटेक इंडस्ट्री की बहुराष्ट्रीय महत्वाकांक्षाओं के बारे में समझ विकसित करने के लिए “बीसीजी-फिक्की फिनटेक सर्वे 2021” का आयोजन किया। इस सर्वेक्षण के अनुसार, 39% भारतीय फिनटेक कंपनियों ने भारत के बाहर अपनी उपस्थिति दर्ज की है, जबकि 73% फिनटेक कंपनियां विस्तार के अवसरों पर विचार कर रह हैं।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments