25 नवंबर : महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस (International Day for the Elimination of Violence against Women)

हर साल, महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस (International Day for the Elimination of Violence against Women) 25 नवंबर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा चिह्नित किया जाता है। यह दिन जागरूकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है कि दुनिया भर में महिलाओं को घरेलू हिंसा, बलात्कार और अन्य प्रकार की हिंसा का शिकार होना पड़ता है।

25 नवंबर को ही क्यों चुना गया?

25 नवंबर, 1960 को डोमिनिकन तानाशाह राफेल ट्रुजिलो के आदेश पर तीन मीराबल बहनों की हत्या कर दी गई थी। 1981 में, कैरेबियन फेमिनिस्ट एनकुएंट्रोस और लैटिन अमेरिका के कार्यकर्ताओं ने महिलाओं के खिलाफ हिंसा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए 25 नवंबर को दिन के रूप में चिह्नित किया।

महिलाओं के विरुद्ध क्रूरता

संयुक्त राष्ट्र महिलाओं के खिलाफ हिंसा को लिंग आधारित हिंसा के रूप में परिभाषित करता है जिसके परिणामस्वरूप शारीरिक, मानसिक या यौन हिंसा होती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, तीन में से एक महिला (यानी 35% महिलाएं) शारीरिक हिंसा का सामना कर रही हैं।

भारत में महिलाओं के खिलाफ हिंसा

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के अनुसार, भारत में महिलाओं के खिलाफ हिंसा बलात्कार, दहेज हत्या, घरेलू हिंसा आदि के रूप में प्रचलित है। इन सभी प्रकार की हिंसा से लाखों महिलाएं प्रतिवर्ष प्रताड़ित होती हैं।

Categories:

Tags: , ,

« »

Advertisement

Comments