9 राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि की गयी

11 जनवरी को दिल्ली और महाराष्ट्र ने बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लूएंजा के प्रकोप की पुष्टि कर दी है। इसके बाद, अब देश में 9 राज्य बर्ड फ्लू से प्रभावित हो चुके हैं।

मुख्य बिंदु

दिल्ली और महाराष्ट्र से पहले मध्य प्रदेश, केरल, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। रिपोर्ट के अनुसार, 8 नमूने दिल्ली से जांच के लिए भेजे गए थे और उनमें से सभी 8 को एवियन इन्फ्लूएंजा से संक्रमित पाया गया है।

महाराष्ट्र के परभनी जिले के मुरुम्बा गांव में 800 मुर्गियां मृत पायी गयी थीं। इसके बाद, मृत मुर्गियों के नमूनों को जांच के लिए राष्ट्रीय प्रयोगशाला में भेजा गया। जिसके बाद महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू की पुष्टि की गयी।

एवियन इन्फ्लुएंजा या बर्ड फ्लू क्या है?

यह एक संक्रामक वायरल बीमारी है जो इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस के कारण होती है। यह आमतौर पर टर्की और मुर्गियों जैसे पोल्ट्री पक्षियों को प्रभावित करती है। इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस कई प्रकार के होते हैं। कुछ वायरस कम अंडे के उत्पादन का कारण बन सकते हैं।

बर्ड फ्लू ने मनुष्यों को संक्रमित करना कब शुरू किया?

मनुष्य पहली बार 1997 में बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गये थे। H5N1 स्ट्रेन मनुष्यों को संक्रमित करने वाला पहला इन्फ्लुएंजा वायरस था।  विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, H5N1 एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में नहीं फैलता है। इसके अलावा, डब्ल्यूएचओ के अनुसार, ऐसे कोई सबूत नहीं हैं कि वायरस ठीक से पकाये गए मुर्गे के माध्यम से फैल सकता है। वायरस गर्मी के प्रति अत्यधिक संवेदनशील है और खाना पकाने के तापमान में मर जाता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments