9 सितंबर : विश्व ईवी दिवस (World EV Day)

ई-मोबिलिटी के उत्सव को चिह्नित करने के लिए हर साल 9 सितंबर को विश्व ईवी दिवस (World EV Day) मनाया जाता है।

मुख्य बिंदु

  • इस अवसर पर, लोगों को इलेक्ट्रिक वाहनों के लाभों के बारे में शिक्षित करने के लिए दुनिया भर में विशेष जागरूकता अभियान आयोजित किए जाते हैं।
  • यह एक सोशल मीडिया अभियान है जो ड्राइवरों को इलेक्ट्रिक वाहनों के लाभों को पहचानने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • यह ड्राइवरों को यह प्रतिबद्धता बनाने के लिए भी प्रोत्साहित करता है कि वे जो अगली कार चलाएंगे वह इलेक्ट्रिक होगी न कि पारंपरिक ईंधन पर चलने वाली कार।

ईवी समिट (EV Summit)

ईवी समिट दुनिया भर के ई-मोबिलिटी लीडर्स को एक साथ लाता है और इस बात पर विचार-मंथन करता है कि वे विद्युतीकरण और टिकाऊ परिवहन को कैसे आगे बढ़ा सकते हैं। इसका आयोजन Green.TV द्वारा किया जाता है।

विश्व ईवी दिवस का इतिहास

विश्व ईवी दिवस की पहल सस्टेनेबिलिटी मीडिया कंपनी Green.TV द्वारा बनाई गई थी। विश्व ईवी दिवस का पहला संस्करण 2020 में मनाया गया।

दुनिया का सबसे बड़ा ईवी बाजार

चीन दुनिया भर में सबसे बड़ा ईवी बाजार है। चीन के अलावा, भारत ऑटोमोटिव कंपनियों के लिए अगले पसंदीदा गंतव्य के रूप में भी उभर रहा है। भारत सरकार ने भी इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग को आगे ले जाने के लिए हर संभव मदद देने का वादा किया है। वर्तमान में, भारत का ऑटोमोटिव उद्योग दुनिया भर में पांचवां सबसे बड़ा है और 2030 तक तीसरा सबसे बड़ा बनने के लिए तैयार है।

ईवी की ओर बदलाव के लिए भारत के प्रयास

भारत पहले से ही इलेक्ट्रिक वाहनों की ओर शिफ्ट होने के प्रयास कर रहा है। हाल ही में, एक प्रमुख इलेक्ट्रिक वाहन और स्वच्छ ऊर्जा कंपनी, टेस्ला ने भारत में प्रवेश करने की घोषणा की। टेस्ला ने बेंगलुरु में अपनी सहायक कंपनी टेस्ला इंडिया मोटर्स एंड एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड को पहले ही गठित कर लिया है। जापान बेस्ड सुजुकी ने भी भारत में अपना पहला ईवी लॉन्च करने की घोषणा की, जबकि टाटा मोटर्स की योजना 2025 तक 10 इलेक्ट्रिक कारों को लॉन्च करने की है।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments