COVISHIELD वैक्सीन डबल म्यूटेंट से रक्षा करता है : अध्ययन

सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (Centre for Cellular and Molecular Biology) ने हाल ही में घोषणा की है कि COVISHILED वैक्सीन B.1.1.617 वेरिएंट से बचाता है। इसे डबल म्यूटेंट स्ट्रेन भी कहा जाता है। इस वैक्सीन को विट्रो न्यूट्रलाइज़ेशन ऐसे (Vitro Neutralisation Assay) का उपयोग करके डबल म्युटेंट वैरिएंट के खिलाफ परीक्षण किया गया था।

विट्रो न्यूट्रलाइज़ेशन ऐसे (Vitro Neutralisation Assay)

यह पता लगाने के लिए उपयोग किया जाता है कि क्या कोई एंटीबॉडी वायरस प्रतिकृति को रोकने में सक्षम है। यह तकनीक सभी एंटीजन-एंटीबॉडी प्रतिक्रियाओं का पता नहीं लगाती है। यह केवल उस एंटीबॉडी का पता लगाती है जो वायरस प्रतिकृति को ब्लॉक कर सकती है।

COVISHIELD

COVISHIELD वैक्सीन एस्ट्राज़ेनेका द्वारा निर्मित है। स्थानीय रूप से, COVISHIELD सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया द्वारा निर्मित किया जा रहा है। यह चिम्पांजी के एडेनोवायरस नामक एक सामान्य कोल्ड वायरस के कमजोर संस्करण से तैयार किया गया था। COVID-19 वायरस की तरह दिखने के लिए वायरस को संशोधित किया गया है। यह दो खुराक में लगाया जाता है।

COVAXIN

COVAXIN भारत बायोटेक द्वारा निर्मित एक सरकारी समर्थित टीका है। इसकी प्रभावकारिता दर 81% है। COVAXIN वैक्सीन के चरण तीन परीक्षणों में 27,000 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया है। COVAXIN दो खुराक में दिया जाता है। खुराक के बीच का समय अंतराल चार सप्ताह है। COVAXIN को मृत COVID-19 वायरस से तैयार किया गया था।

Categories:

Tags: , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments