DRDO ने एंटी-कोविड दवा 2DG (2-Deoxy – D – Glucose) का पहला बैच जारी किया

17 मई, 2021 को DRDO ने एंटी-कोविड दवा 2DG (2-Deoxy – D – Glucose) का पहला बैच जारी किया गया। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (Drugs Controller General of India) ने हाल ही में COVID-19 के इलाज के लिए एक मौखिक दवा (oral drug) को मंजूरी दी है जिसे 2-DG कहा जाता है। 2-डीजी को रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (Defence Research Development Organisation) द्वारा आपातकालीन उपयोग के लिए विकसित किया गया है। 2-DG  का अर्थ 2-Deoxy – D – Glucose है। इसे डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज (Dr. Reddy’s Laboratories) के सहयोग से विकसित किया गया है। इस दवा का पहला बैच अगले हफ्ते लांच किया जा सकता है।

2-DG दवा

  • यह दवा अस्पताल में भर्ती मरीजों की तेजी से रिकवरी सुनिश्चित करती है और नैदानिक ​​परीक्षणों के दौरान पूरक ऑक्सीजन निर्भरता (supplemental oxygen dependence) को कम करेगी।
  • यह संक्रमित कोशिकाओं में जमा हो जाती है और वायरल संश्लेषण को रोकती है।
  • दवा पाउच रूप में पाउच में आती है। पानी में घोलकर इसका सेवन मौखिक रूप से किया जाता है।
  • इसे इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंसेज (INMAS) द्वारा विकसित किया गया था। INMAS DRDO के तहत संचालित होने वाली एक प्रयोगशाला है।
  • कोविड-19 के गंभीर रोगियों के लिए DGCI ने इस दवा के आपातकालीन उपयोग की अनुमति दी है।
  • 2-डीजी एक जेनेरिक मॉलिक्यूल है और इस प्रकार आसानी से देश में प्रचुर मात्रा में निर्मित व उपलब्ध कराया जा सकता है।

ट्यूमर के लिए 2-DG

कैंसर की कोशिकाओं में ग्लूकोज अधिक होता है। इस प्रकार, जब 2-डीजी को कैंसर रोगियों में इंजेक्ट किया जाता है, तो यह कैंसर कोशिकाओं के लिए एक अच्छे मार्कर के रूप में कार्य करती है।

 

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments