Google Pay ने कार्ड टोकनाइजेशन का विस्तार किया

Google ने Google Pay (G Pay) एप्प पर कार्ड के लिए और बैंक लाकर कार्ड टोकनाइजेशन को बढ़ा दिया है।

कार्ड टोकनाइजेशन (card tokenization) क्या है?

कार्ड टोकनाइजेशन एक ऐसी सुविधा है जो यूजर्स को एक सुरक्षित डिजिटल टोकन के माध्यम से डेबिट या क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने देती है जो उनके फोन से जुड़ा होता है। इसके लिए क्रेडिट या डेबिट कार्ड के विवरण को भौतिक रूप से साझा करने की आवश्यकता नहीं है। वर्तमान में, इस सुविधा का लाभ लगभग 2.5 मिलियन वीज़ा मर्चेंट स्थानों पर लिया जा सकता है। नवीनतम विस्तार के साथ, यह यूजर्स को लगभग 1.5 मिलियन भारत क्यूआर सक्षम मर्चेंट्स को स्कैन करने और भुगतान करने की अनुमति देगा।

कार्ड टोकनाइजेशन की विशेषताएं

यह सुविधा नियर-फील्ड कम्युनिकेशन (NFC) सक्षम डिवाइस या फोन वाले यूजर्स को कांटेक्टलेस भुगतान करने के अनुमति देती है। यूजर्स अपने बिलों का भुगतान करने और फ़ोन को रिचार्ज करने के लिए क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकेंगे। यह सुविधा ऑनलाइन व्यापारियों के साथ भी काम करती है और 3D सिक्योर साइट्स पर रीडायरेक्ट किए बिना निर्बाध ओटीपी अनुभव प्रदान करती है।

कौन से बैंक इस सुविधा का उपयोग कर रहे थे?

गूगल पे ने इससे पहले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया कार्ड, कोटक महिंद्रा बैंक और एक्सिस बैंक के साथ कार्ड टोकनाइजेशन की सुविधा शुरू की थी।

अब कौन से बैंक जोड़े गए हैं?

Google Pay ने अब टोकन सुविधा का उपयोग करने के लिए SBI, फेडरल बैंक, इंडसइंड बैंक और HSBC इंडिया के क्रेडिट कार्ड को सूची में जोड़ा है।

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments

  • motilal R josh
    Reply

    Motilal R josh