IIF रिपोर्ट : 2021 में विश्व का कर्ज बढ़ेगा

इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल फाइनेंस (IIF) की रिपोर्ट के अनुसार विश्व में ऋण की मात्रा अप्रत्याशित रूप से अधिक है और वर्ष 2021 में कोविड-19 के कारण उत्पन्न आर्थिक संकट के बीच और अधिक उधार लेने के साथ ऋण में और वृद्धि होगी।

मुख्य बिंदु

  • आईआईएफ के अनुसार सरकारों, कंपनियों और लोगों ने आर्थिक नुकसान की भरपाई के लिए 2020 में 24 ट्रिलियन डॉलर की राशि जुटाई है।
  • इससे वैश्विक ऋण में सर्वाधिक वृद्धि हुई है।
  • वर्ष 2020 तक, विश्व का ऋण 281 ट्रिलियन डॉलर है।
  • यह वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद के 355 प्रतिशत से अधिक है।
  • IIF के अनुसार सरकारें बड़े बजट घाटे की चुनौती का सामना कर रही हैं।
  • इसमें वर्ष 2021 में 10 ट्रिलियन डॉलर की वृद्धि होगी।इसके चलते 2021 के अंत के साथ ऋण भार 92 ट्रिलियन डॉलर तक बढ़ जायेगा।

अंतर्राष्ट्रीय वित्त संस्थान (Institute of International Finance-IIF)

यह वैश्विक वित्तीय सेवा उद्योग के लिए व्यापार समूह है। IIF की स्थापना 1983 में अग्रणी औद्योगिक देशों के 38 बैंकों द्वारा की गई थी। यह 1980 के दशक के अंतरराष्ट्रीय ऋण संकट के बाद में बनाया गया था। यह समूह अब 70 देशों से लगभग 450 फर्मों का प्रतिनिधित्व करता है। IIF के सदस्यों में संपत्ति प्रबंधक, वाणिज्यिक और निवेश बैंक, संप्रभु धन कोष, बीमा कंपनियां, केंद्रीय बैंक, हेज फंड और विकास बैंक शामिल हैं।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments