IMF ने श्रीलंका की सहायता के लिए 2.9 बिलियन डॉलर की घोषणा की

ऐतिहासिक आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका की मदद के लिए हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) आगे आया है। IMF ने श्रीलंका को 2.9 अरब डॉलर के कर्ज की घोषणा की है।

मुख्य बिंदु

  • इस सहायता का उद्देश्य श्रीलंका में व्यापक आर्थिक स्थिरता और साख को बहाल करना और साथ ही वित्तीय स्थिरता की रक्षा करना है।
  • IMF और श्रीलंकाई अधिकारियों ने अर्थव्यवस्था को स्थिर करने और विकास को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए लगभग 2.9 बिलियन डॉलर की विस्तारित निधि सुविधा (EFF) के तहत 48 महीने के ऋण पर सहमति व्यक्त की है।
  • श्रीलंका और IMF के बीच समझौता केवल प्रारंभिक है, और इसे IMF प्रबंधन और उसके कार्यकारी बोर्ड द्वारा अनुमोदित किया जाएगा। यह केवल तभी हो पाएगा जब श्रीलंकाई अधिकारी पहले से सहमत उपायों को पूरा करेंगे जिसमें बहुपक्षीय भागीदारों से अतिरिक्त धन और श्रीलंका के ऋणदाताओं से ऋण राहत शामिल है ताकि ऋण की सामर्थ्य सुनिश्चित करने और वित्तीय अंतर को पाटने में मदद मिल सके।

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund – IMF)

IMF एक अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थान है। इसका मुख्यालय वाशिंगटन में है। इस संस्था में 190 देश शामिल हैं। यह वैश्विक मौद्रिक सहयोग को बढ़ावा देने, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार को सुविधाजनक बनाने, वित्तीय स्थिरता को सुरक्षित करने, सतत आर्थिक विकास को बढ़ावा देने, उच्च रोजगार को बढ़ावा देने और दुनिया भर में गरीबी को कम करने के लिए काम कर रहा है। यह 1944 में बनाया गया था लेकिन 27 दिसंबर, 1945 को औपचारिक रूप से काम करना शुरू कर दिया। 

Categories:

Tags: , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments