IMF ने World Economic Outlook जारी किया

भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान 8.2% से घटाकर 7.4% कर दिया गया है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने 26 जुलाई, 2022 को अपने विश्व आर्थिक आउटलुक में भारत की विकास भविष्यवाणी जारी की।

मुख्य निष्कर्ष

  • अप्रैल में भारत की आर्थिक वृद्धि का अनुमान 8.2% रहने का अनुमान लगाया गया था।
  • IMF ने बाहरी झटके और तेजी से मौद्रिक नीति सख्त होने को देखते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था की भेद्यता के कारण अनुमान घटाकर 7.4% कर दिया है।
  • वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए भारत का विकास पूर्वानुमान भी बढ़ते आर्थिक जोखिमों के कारण 0.8 प्रतिशत अंक घटाकर 6.1% कर दिया गया है।

अन्य संस्थानों द्वारा भारत के विकास का पूर्वानुमान

  • भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 2022-23 में भारत की वृद्धि दर 7.2% रहने का अनुमान लगाया है।
  • एशियाई विकास बैंक ने 2022-23 के लिए भारत के विकास के अनुमान को घटाकर 7.2% कर दिया है।

वैश्विक विकास आउटलुक

IMF ने ग्लोबल ग्रोथ आउटलुक को भी कम किया है। इसने चेतावनी दी है कि, दुनिया मंदी की ओर बढ़ रही है। 2022 में वैश्विक आर्थिक विस्तार 3.2% तक धीमा होने की उम्मीद है। यह विस्तार अप्रैल 2022 में 3.6% की तुलना में धीमा है।

सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था 

IMF के अनुसार, भारत 2022-23 और 2023-24 में दुनिया भर में सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था बना रहेगा। भारत से आगे सिर्फ सऊदी अरब के रहने की संभावना है। 2022 में सऊदी अरब के 7.6% की दर से बढ़ने का अनुमान है। 2022 में चीन में विकास दर 3.3% तक धीमा होने की संभावना है। 

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments