‘India’s Women Unsung Heroes’ पुस्तक जारी की गई

आजादी का अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में, संस्कृति मंत्रालय ने स्वतंत्रता संग्राम के 75 गुमनाम नायकों पर तीन चित्रात्मक पुस्तकों का विमोचन किया।

प्रमुख बिंदु

  • इस चित्रात्मक पुस्तकों का विमोचन “अमर चित्र कथा” के सहयोग से किया गया।
  • इस पुस्तक में रानी अबक्का, पार्वती गिरी और मातंगिनी हाजरा, चकली इलम्मा जैसी नायिकाओं के योगदान को हाईलाइट किया जायेगा।
  • यह पुस्तक इन महिलाओं के जीवन का जश्न मनाती है जिन्होंने इस अभियान का नेतृत्व किया और देश भर में विरोध और विद्रोह की लौ जलाई।
  • इसमें उन रानियों की कहानियां शामिल हैं जिन्होंने ब्रिटिश शक्तियों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। इन महिलाओं ने मातृभूमि के लिए अपना जीवन समर्पित और बलिदान कर दिया।

पहली श्रृंखला 

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने 28 जनवरी, 2022 को दिल्ली में श्रृंखला की पहली लांच की। पहला भाग 20 महिलाओं को समर्पित है, जिनका योगदान काफी हद तक अपरिचित है। 20 महिलाओं में शामिल हैं:

  1. रानी अब्बक्का – वह उल्लाल की पहली तुलुवा रानी थीं। उसने 16वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में पुर्तगालियों से लड़ाई की।
  2. मातंगिनी हाजरा – वह बंगाली क्रांतिकारी थीं। सितंबर 1942 में, ब्रिटिश भारतीय पुलिस ने उनकी गोली मारकर हत्या कर दी थी।
  3. चकली इलम्मा – स्थानीय जमींदार के खिलाफ उनके अवज्ञा के कार्य ने तेलंगाना क्षेत्र में विद्रोह के दौरान कई लोगों को प्रेरित किया।
  4. पार्वती गिरि – उन्हें पश्चिमी ओडिशा की मदर टेरेसा के नाम से जाना जाता है। वह ओडिशा की एक प्रमुख महिला स्वतंत्रता सेनानी थीं।
  5. गुलाब कौर – वह एक स्वतंत्रता सेनानी थीं, जिन्होंने ब्रिटिश राज के खिलाफ भारतीयों को लामबंद करने के लिए विदेश में जीवन के अपने सपनों को त्याग दिया।
  6. पद्मजा नायडू – वह सरोजिनी नायडू की बेटी और एक स्वतंत्रता सेनानी थीं। बाद में वह पश्चिम बंगाल की राज्यपाल बनीं।
  7. बिश्नी देवी शाह – उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल होने के लिए उत्तराखंड में बड़ी संख्या में लोगों को प्रेरित किया।

श्रृंखला का दूसरा संस्करण

इस श्रृंखला का दूसरा संस्करण प्रक्रिया में है। इसमें 25 गुमनाम आदिवासी स्वतंत्रता सेनानियों की कहानियां शामिल होंगी।

तीसरा संस्करण

श्रृंखला के तीसरे और अंतिम संस्करण में 30 अज्ञात नायकों की कहानियां होंगी।

इन पुस्तकों तक कोई कैसे हासिल सकता है?

ये पुस्तकें अमर चित्र कथा एप पर डिजिटल प्रारूप में नि:शुल्क उपलब्ध होंगी।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments