IOSCA में शामिल हुआ IFSCA

हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) IOSCO (International Organization of Securities Commissions) में शामिल हो गया है। अब IFSCA IOSCO का सहयोगी सदस्य बन गया है।

IOSCO (International Organization of Securities Commissions)

IOSCO की स्थापना 1983 में की गयी थी, इसका मुख्यालय स्पेन के मेड्रिड में है। वर्तमान में इसके 224 सदस्य हैं। यह संगठन प्रतिभूति बाजारों को मजबूत करने के उद्देश्य से मानकों को स्थापित करने के लिए वित्तीय स्थिरता बोर्ड और G20 के साथ मिलकर काम करता है।

वित्तीय स्थिरता बोर्ड

यह वैश्विक वित्तीय प्रणाली की निगरानी करता है, इसकी स्थापना वर्ष 2009 में में की गयी थी। इसका मुख्यालय स्विट्ज़रलैंड  के बेसल में है। इसमें G20 समूह की सभी बड़ी अर्थव्यवस्थाएं शामिल हैं।

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA)

इस प्राधिकरण में 9 सदस्य हैं जिन्हें भारत सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है। इन सदस्यों का कार्यकाल तीन वर्ष का होता है। इसके सदस्यों में अध्यक्ष, वित्त मंत्रालय के दो सदस्य, RBI, SEBI, IRDAI और PFRDA के एक-एक सदस्य और खोज समिति की सिफारिश के आधार पर दो सदस्य शामिल होते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (IFSC)

अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र कॉर्पोरेट्स, व्यक्तियों और सरकारों को फंड जुटाने की सेवाएं प्रदान करता है। यह वैश्विक कर प्रबंधन, धन प्रबंधन, विलय, जोखिम प्रबंधन संचालन आदि पर भी फोकस करेगा।

IFSCA भारत में IFSCs के लिए एक एकीकृत प्राधिकरण के रूप में कार्य करता है। इससे सेबी, आरबीआई और आईआरडीएआई जैसे अन्य कई नियामकों का बोझ कम हुआ है। ऐसा इसलिए है क्योंकि वर्तमान में सभी बीमा व पूंजी बाजार उनके द्वारा विनियमित किए जा रहे हैं।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments