Luna 25 : रूस का चंद्रमा मिशन

Roscosmos अक्टूबर, 2021 तक Luna 25 को लॉन्च करेगा। Roscosmos रूस का सरकारी अंतरिक्ष निगम है जो अंतरिक्ष उड़ानों, एयरोस्पेस अनुसंधान और कॉस्मोनॉटिक्स कार्यक्रमों के लिए जिम्मेदार है।

लूना 25  (Luna 25)

  • यह मिशन एक लैंडर ले जाएगा। Luna 25 का प्राथमिक उद्देश्य लैंडिंग तकनीक साबित करना है।
  • मिट्टी के नमूने एकत्र करने के लिए एक रोबोटिक आर्म और ड्रिलिंग हार्डवेयर सहित 30 किलोग्राम के वैज्ञानिक उपकरणों को ले जायेगा।
  • यह चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के चारों ओर के एक्सोस्फियर का अध्ययन करेगा। आज तक चंद्रमा के इस क्षेत्र में कोई अंतरिक्ष यान नहीं गया है। कई देश इस साइट को भविष्य के चंद्रमा के ठिकानों के रूप में देखते हैं।
  • इस परियोजना को रोस्कोस्मोस द्वारा वित्तपोषित किया गया है।

लैंडर के पेलोड

लूना 25 का लैंडर निम्नलिखित विज्ञान उपकरणों को ले जाएगा:

  • ADRON-LR -यह रेगोलिथ का अध्ययन करने के लिए एक सक्रिय गामा किरण और न्यूट्रॉन विश्लेषण उपकरण है।
  • ADRON-LR – यह एक्सोस्फेयर में प्लाज्मा को मापेगा।
  • LASMA-LR -यह एक मास स्पेक्ट्रोमीटर है।
  • PmL -यह सूक्ष्म उल्कापिंड और धूल को मापता है।
  • LIS-TV-RPM – यह इमेजिंग और खनिजों की इन्फ्रारेड स्पेक्ट्रोमेट्री है।
  • STS-L – यह स्थानीय इमेजिंग और पैनोरमिक साधन है।

लूना 25 में ESA की भूमिका

यूरोपियन स्पेस एजेंसी Luna 25 के लिए PROSPECT नामक पैकेज विकसित कर रही है। इसका इस्तेमाल चन्द्रमा पर ड्रिलिंग और नमूना विश्लेषण के लिए किया जायेगा। PROSPECT का अर्थ Package for Resource Observation and in-Situ Prospecting for Exploration है।

अन्य लूना मिशन

लूना श्रृंखला का अंतिम भाग लूना 24 था जिसे 1976 में लॉन्च किया गया था। यह चंद्र सतह के नमूनों को पुनः प्राप्त करने वाला तीसरा सोवियत संघ मिशन था। पहला लूना मिशन 1970 में लांच किया गया था।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments