Mice Rain क्या है?

ऑस्ट्रेलिया में चूहों की आबादी तेजी से बढ़ी है। चूहे फसल और भंडारित खाद्यान्न को व्यापक नुकसान पहुंचा रहे हैं। इसे Mice Rain (चूहों की बारिश) कहा जा रहा है। इसके साथ ही देश में प्लेग (plague) भी बढ़ा है।

इस स्थिति को “Mice Rain” क्यों कहा जाता है?

हाल ही में सोशल मीडिया पर जारी एक वीडियो में सफाई के दौरान चूहों को मशीन से बाहर निकलते हुए दिखाया गया है। इस प्रकार, “Mice Rain” शब्द प्रचलन में आया। चूहों की इस विशाल जनसंख्या वृद्धि से भंडारित खाद्यान्न को भारी नुकसान हो रहा है।

  • आस्ट्रेलियाई लोग लाखों चूहों के गंभीर हमले का सामना कर रहे हैं।चूहे फसलों और भंडारित अनाज को नष्ट कर रहे हैं। उन्होंने ग्रामीण अस्पतालों में भी अपनी जगह बना ली है और कई रोगियों को चूहों द्वारा काटा भी गया है।
  • इन सबसे बढ़कर, न्यू साउथ वेल्स में एक माउस प्लेग (mouse plague) फैल रहा है।
  • चूहों के गोबर से कई टन अनाज दूषित हो रहा है।

चूहों की बारिश के कारण

वैज्ञानिकों के अनुसार, मानव के बाद कृंतक (rodents) इस ग्रह पर सबसे सफल स्तनधारी (mammals ) हैं। प्रजनन करने वाले चूहों की एक जोड़ी हर 20दिन में नए चूहों को जन्म दे सकती है।

क्या प्लेग चूहों की बारिश के कारण फ़ैल रहा है?

प्लेग एक जानलेवा संक्रामक रोग है जो यर्सिनिया पेस्टिस (Yersinia pestis) नामक बैक्टीरिया के कारण होता है। यह कृन्तकों (rodents) जैसे जानवरों में पाया जाता है। जैसे-जैसे उनकी आबादी बढ़ रही है, बीमारी का प्रसार भी बढ़ रहा है।

  • 13वीं शताब्दी में, इस बीमारी ने यूरोप में लाखों लोगों की जान ली थी और इसलिए इसका नाम “ब्लैक डेथ” (Black Death) पड़ा।
  • यह मुख्य रूप से छींकने, दूषित भोजन और पानी, वाई पेस्टिस द्वारा दूषित सतह को छूने के कारण होता है।यह संक्रमित व्यक्ति के सीधे शारीरिक संपर्क से भी फैलता है।

प्लेग कब शुरू हुआ?

यह पूर्वी ऑस्ट्रेलियाई राज्यों में मार्च महीने में शुरू हुआ। न्यू साउथ वेल्स सरकार ने हाल ही में किसानों, निवासियों को प्रभावित करने वाले माउस प्लेग (mouse plague) से निपटने के लिए किसानों को 50 मिलियन अमरीकी डालर का सहायता पैकेज दिया है। सरकार ने ब्रोमैडिओलोन (Bromadiolone) नामक अवैध जहर को भी अधिकृत किया है। ये सभी उपाय देश में “चूहों की बारिश” को नियंत्रित करने के लिए किए जा रहे हैं।

Categories:

Tags: , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments