MSMEs को ऋण सहायता प्रदान करने के लिए HDFC और NSIC ने समझौता किया

HDFC बैंक ने देश भर में MSMEs को ऋण सहायता प्रदान करने और मजबूत करने के लिए राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम (National Small Industries Corporation – NSIC) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं।

मुख्य७ बिंदु 

  • NSIC के साथ साझेदारी MSME क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने में मदद करेगी जो आर्थिक विकास के साथ-साथ रोजगार सृजन के मामले में भारत की रीढ़ है।
  • इस समझौता ज्ञापन के तहत, HDFC बैंक MSMEs को उनकी प्रतिस्पर्धात्मकता बढ़ाने के लिए विशेष रूप से तैयार की गई योजनाओं का एक सेट प्रदान करेगा।
  •  HDFC बैंक की शाखाएं उन क्षेत्रों में MSME परियोजनाओं और भारत के अन्य महत्वपूर्ण औद्योगिक क्षेत्रों में भी सहायता प्रदान करेंगी।

राष्ट्रीय लघु उद्योग निगम लिमिटेड (National Small Industries Corporation – NSIC)

NSIC एक मिनी रत्न सरकारी एजेंसी है। यह 1955 में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (MSMEs) द्वारा स्थापित की गयी थी। यह MSME मंत्रालय की कई योजनाओं जैसे प्रदर्शन और क्रेडिट रेटिंग, MSME डेटाबैंक, सिंगल पॉइंट पंजीकरण, राष्ट्रीय SC ST हब, आदि के लिए नोडल कार्यालय है। 

HDFC बैंक लिमिटेड

यह एक भारतीय बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है जिसका मुख्यालय मुंबई में है। अप्रैल 2021 तक, यह संपत्ति और बाजार पूंजीकरण द्वारा भारत का सबसे बड़ा निजी क्षेत्र का बैंक है। यह भारतीय स्टॉक एक्सचेंजों पर बाजार पूंजीकरण के हिसाब से तीसरा सबसे बड़ा बैंक है। 1,20,000 कर्मचारियों के साथ बैंक भारत में 15वां सबसे बड़ा नियोक्ता (employer) भी है। इस बैंक को 1994 में हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन की सहायक कंपनी के रूप में गठित किया गया था।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments