NCDC ने Deutsche Bank से 600 करोड़ रुपये का ऋण प्राप्त किया

राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (National Cooperative Development Corporation – NCDC) ने देश में सहकारी समितियों को ऋण देने के लिए जर्मनी के सबसे बड़े बैंक ड्यूश बैंक (Deutsche Bank) से 600 करोड़ रुपये का ऋण प्राप्त किया है।

मुख्य बिंदु

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की मौजूदगी में NCDC और जर्मन बैंक के बीच इस संबंध में एक समझौता हुआ। कृषि मंत्री ने बाजारों के साथ किसानों के संबंध को बढ़ावा देने के लिए इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स और एनसीडीसी के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर करने की भी अध्यक्षता की।

इस मौके पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि देश में स्थापित किए जा रहे किसान उत्पादक संगठन इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स और ड्यूश बैंक के साथ NCDC समझौतों के माध्यम से आसान ऋण और बाजार तक पहुंच बना सकेंगे और इससे छोटे और सीमांत किसानों को मदद मिलेगी।

गौरतलब है यह पहली बार है कि सबसे बड़े यूरोपीय बैंकों में से एक Deutsche Bank ने NCDC को ऋण प्रदान करने का निर्णय लिया है। यह NCDC में वैश्विक वित्तीय संस्थान के आत्मविश्वास को दर्शाता है, खासकर ऐसे समय में जब कोविड ने वैश्विक आर्थिक व्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित किया है।

राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (National Cooperative Development Corporation – NCDC)

राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (National Cooperative Development Corporation – NCDC) एक वैधानिक निगम है, इसकी स्थापना भारतीय संसद के अधिनियम के द्वारा 13 मार्च, 1963 को की गयी थी। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है। NCDC का उद्देश्य उत्पादन, प्रसंस्करण, मार्केटिंग, भण्डारण, निर्यात इत्यादि के लिए कार्यक्रम तैयार करना है।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments