NSO ने जीडीपी पूर्वानुमान के आंकड़े जारी किये

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) ने हाल ही में वित्तीय वर्ष 2021 के लिए सकल घरेलू उत्पाद (GDP) पर अपना डेटा जारी किया।

मुख्य बिंदु

  • एनएसओ के अनुसार, दिसंबर तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था में 4% की वृद्धि होगी। इससे स्पष्ट होता है कि अर्थव्यवस्था मंदी से रिकवर रही है।
  • स रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि, अर्थव्यवस्था की रिकवरी मजबूत होने की उम्मीद है क्योंकि भारत में टीकाकरण कार्यक्रम सुचारू रूप से प्रगति कर रहा है।इस वजह से, जनता ने खरीदारी करने, भोजन करने और यात्रा करने का आत्मविश्वास हासिल किया है।
  • ब्लूमबर्ग सर्वेक्षण में अर्थशास्त्रियों द्वारा अनुमान के अनुसार सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में विस्तार 6% से कम था।
  • यह इस बात पर भी प्रकाश डालता है कि अर्थव्यवस्था ने रिकॉर्ड संकुचन की लगातार दो तिमाहियों के बाद तेज़ी से रिकवरी की है।
  • आंकड़ों के अनुसार, जून और सितंबर की तिमाही के लिए जीडीपी संकुचन को 4% और 7.3% तक संशोधित किया गया है।

अर्थव्यवस्था कैसे पुनर्जीवित हुई?

सरकार द्वारा लॉकडाउन प्रतिबंधों को हटाने और खर्च को बढ़ाने के बाद आर्थिक गतिविधि को फिर से शुरू करने की मदद से आर्थिक विकास को पुनर्जीवित किया गया। इसके अलावा, भारत में टीकाकरण कार्यक्रम ने इस विश्वास को और बढ़ा दिया है कि वित्त वर्ष 2021-22 में अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO)

एनएसओ एक एजेंसी है जो कि रंगराजन आयोग की सिफारिश पर बनाई गई थी। इस कार्यालय को सांख्यिकीय मानकों को लागू करने और बनाए रखने के लिए स्थापित किया गया था। रंगराजन आयोग ने भी एनएससी स्थापित करने की सिफारिश की थी। एनएसओ का गठन सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (MoSPI) के तहत राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (NSSO) और केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) के विलय के बाद किया गया था।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments