OECD ने जारी किया अंतरिम ‘आर्थिक आउटलुक’

आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) ने 9 मार्च, 2021 को अपना अंतरिम आर्थिक आउटलुक प्रकाशित किया। यह अनुमान लगाया है कि वित्तीय वर्ष 2022 में भारतीय अर्थव्यवस्था 12.6% की दर से बढ़ेगी। यह G-20 देशों में सबसे अधिक है।

मुख्य बिंदु

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, कुछ अर्थव्यवस्थाओं में नए वायरस के प्रकोप और सख्त नियंत्रण मानदंडों के बावजूद 2020 की चौथी तिमाही में रिकवरी जारी रही।

रिपोर्ट की मुख्य बातें

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि, कई बड़ी उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाएं अपेक्षाकृत तेजी से रिकवर कर रही हैं। तुर्की, चीन और भारत में मजबूत राजकोषीय और अर्ध-राजकोषीय उपाय, विनिर्माण और निर्माण में सुधार और कई अन्य गतिविधियां पूर्व-महामारी के स्तर से ऊपर चली गई हैं। इन गतिविधियों ने इन अर्थव्यवस्थाओं को उबरने में मदद की है। वित्तीय वर्ष 2021 के लिए, रिपोर्ट में अर्थव्यवस्था में संकुचन 7.4 प्रतिशत का अनुमान लगाया गया था।

भारत की वृद्धि पर अन्य रिपोर्ट

रेटिंग एजेंसी क्रिसिल लिमिटेड ने यह भी अनुमान लगाया है कि वित्तीय वर्ष 2022 में भारतीय अर्थव्यवस्था 11% की दर से बढ़ेगी। यह वृद्धि टीकाकरण कार्यक्रम और निवेश-केंद्रित सरकारी खर्चों के कारण होगी।

विश्व आर्थिक आउटलुक

विश्व आर्थिक आउटलुक एक विश्लेषण है, जो आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OECD) द्वारा प्रकाशित किया गया है। इसमें ओईसीडी के सदस्य देशों के भविष्य के आर्थिक प्रदर्शन के पूर्वानुमान और आर्थिक विश्लेषण शामिल हैं। इस रिपोर्ट का मुख्य संस्करण अंग्रेजी में प्रकाशित होता है, हालांकि, यह फ्रेंच और जर्मन भाषाओं में भी प्रकाशित होता है।

आर्थिक सहयोग और विकास संगठन (OCDE)

यह एक अंतरसरकारी आर्थिक संगठन है जिसमें 37 सदस्य देश शामिल हैं। यह आर्थिक प्रगति और विश्व व्यापार की देखभाल के लिए वर्ष 1961 में स्थापित किया गया था। यह एक आधिकारिक संयुक्त राष्ट्र पर्यवेक्षक भी है।

Categories:

Tags: , , , ,

« »

Advertisement

Comments