PM-WANI क्या है?

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हाल ही में पूरे भारत में वाई-फाई नेटवर्क स्थापित करने के लिए मंजूरी दी है। PM-WANI का अर्थ Public Wi-Fi Access Network Interface है। PM-WANI देश में वाई-फाई नेटवर्क के विकास को बढ़ावा देगा। इससे देश में बड़े पैमाने पर वाई-फाई क्रांति लाने की उम्मीद है। यह पीसीओ मॉडल (पीसीओ पब्लिक कॉल ऑफिस) के समान है।

मुख्य बिदु

एक विशाल वाई-फाई नेटवर्क को लॉन्च करने के लिए लगभग एक करोड़ डाटा केंद्र स्थापित किए जायेंगे। वाई-फाई नेटवर्क या डाटा सेंटर स्थापित करने के लिए कोई पंजीकरण शुल्क नहीं होगा। पब्लिक वाई-फाई नेटवर्क पब्लिक डाटा ऑफिस एग्रीगेटर्स (PDOAs) द्वारा स्थापित किए जायेंगे। सार्वजनिक वाई-फाई सेवाएं पब्लिक डाटा ऑफिस के माध्यम से प्रदान की जाएँगी।

प्रमुख विशेषताऐं

• पब्लिक डाटा ऑफिस WANI के अनुरूप वाई-फाई एक्सेस पॉइंट्स का रखरखाव और संचालन करेगा। ये पीडीओ ग्राहकों को ब्रॉडबैंड सेवा प्रदान करेंगे।
• पब्लिक डाटा ऑफिस एग्रीगेटर्स लेखांकन और प्राधिकरण के कार्यों को करेगा।
• एप्लिकेशन प्रोवाइडर यूजर्स को पंजीकृत करने के लिए एक एप्प विकसित करेगा। यह आसपास के क्षेत्रों में WANI के अनुरूप वाई-फाई हॉटस्पॉट की खोज करेगी।
• केंद्रीय रजिस्ट्री पीडीओ, पीडीओए का विवरण रखेगा। इसका रखरखाव C-DoT द्वारा किया जाएगा।
• पीडीओए या पीडीओ के लिए कोई पंजीकरण आवश्यक नहीं है। एप्प प्रोवाइडर खुद को पंजीकरण शुल्क के बिना दूरसंचार विभाग के साथ पंजीकृत करवाएंगे। यह पंजीकरण आवेदन के सात दिनों के भीतर दिया जाएगा।

PM-WANI के लाभ

यह देश में सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क के विकास को बढ़ावा देगा। यह ब्रॉडबैंड इंटरनेट, रोजगार, आय में वृद्धि और सशक्तीकरण के प्रसार में मदद करेगा।

पृष्ठभूमि

राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति, 2018 ने 2020 तक इंटरनेट को 5 मिलियन और 2022 तक 10 मिलियन लोगो तक पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। फिलहाल भारत इन लक्ष्यों को हासिल करने के मामले में काफी पीछे है। इसलिए, देश में वाई-फाई कार्यक्रमों को बढ़ावा देना आवश्यक है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments