SpaceX ने एक रॉकेट से 143 सैटेलाइट लॉन्च किए

एलोन मस्क की कंपनी स्पेसएक्स ने एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है। इसने एक रॉकेट फाल्कन 9 रॉकेट से 143 उपग्रहों को लॉन्च किया है। नए रिकॉर्ड के साथ, स्पेसएक्स ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है, जिसने फरवरी 2017 में एक लॉन्च में 104 उपग्रहों को अन्तरिक्ष में तैनात किया था।

इन उपग्रहों को एक ध्रुवीय सूर्य-तुल्यकालिक कक्षा (polar sun-synchronous orbit) में पहुंचाने के उद्देश्य से, स्पेसएक्स प्रत्येक उपग्रह के लिए 15,000 डॉलर प्रति किलोग्राम की कीमत वसूली है। लॉन्च किए गए 143 उपग्रहों में वाणिज्यिक और सरकारी उपग्रह अर्थात् क्यूबसैट, माइक्रोसेट और 10 स्टारलिंक उपग्रह शामिल हैं। इसमें नासा का एक अंतरिक्ष यान भी लॉन्च किया गया था।

लॉन्च का उद्देश्य

स्पेसएक्स ने 2021 के अंत तक दुनिया भर में लगभग वैश्विक ब्रॉडबैंड इंटरनेट कवरेज प्रदान करने के उद्देश्य से इन उपग्रहों को लॉन्च किया है।

स्पेस एक्सप्लोरेशन टेक्नोलॉजीज कार्पोरेशन (SpaceX)

यह एक अमेरिकी एयरोस्पेस निर्माता और अंतरिक्ष परिवहन सेवा कंपनी है। इसका मुख्यालय कैलिफोर्निया के हॉथोर्न में है। इसकी स्थापना वर्ष 2002 में एलोन मस्क ने की थी। स्पेसएक्स दुनिया की पहली निजी कंपनी थी जिसने रॉकेट को पृथ्वी पर वापस लैंड करवाया। आमतौर पर उपग्रहों को उनकी कक्षा में स्थापित करने के बाद रॉकेट जल जाते हैं या अंतरिक्ष में फेंक दिए जाते हैं। स्पेसएक्स अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन तक कार्गो पहुंचाने में सक्रिय रूप से शामिल है।

फाल्कन 9 रॉकेट

यह रॉकेट आंशिक रूप से रीयूजेबल मीडियम-लिफ्ट लांच व्हीकल है। इसे SpaceX द्वारा डिजाइन और निर्मित किया गया है। यह प्रोपेलेंट के रूप में क्रायोजेनिक लिक्विड ऑक्सीजन और रॉकेट-ग्रेड केरोसीन (आरपी​​-1) का उपयोग करता है।

सूर्य-समकालिक कक्षा (Sun-synchronous orbit-SSO)

इसे हेलियोसिंक्रोनस ऑर्बिट भी कहा जाता है। यह एक ग्रह के चारों ओर एक ध्रुवीय कक्षा है। इस कक्षा में, उपग्रह एक ही स्थानीय माध्य सौर समय में ग्रह की सतह के किसी भी बिंदु पर गुजरता है।

Categories:

Tags: , , , , , , , , , , ,

« »

Advertisement

Comments