UNCTAD Digital Economy Report 2021 जारी की गयी

व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) ने हाल ही में अपनी “UNCTAD Digital Economy Report 2021” प्रकाशित की ।

रिपोर्ट के प्रमुख निष्कर्ष

  • अपनी रिपोर्ट में, UNCTAD ने फिलीपींस को उन 6 देशों में से एक के रूप में नोट किया जो सीमाओं के पार डेटा के मुक्त प्रवाह की अनुमति देता है। डिजिटल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए डेटा के मुक्त प्रवाह की आवश्यकता है।
  • सीमा पार डेटा के मुक्त प्रवाह की अनुमति देने वाले अन्य पांच देशों में शामिल हैं- कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, मैक्सिको, सिंगापुर और अमेरिका। ये देश डेटा प्रवाह के लिए “लाइट-टच अप्रोच” का उपयोग करते हैं।

लाइट-टच अप्रोच (Light-touch Approach)

घरेलू कानूनों के अनुपालन की निगरानी के लिए मजबूत नियामक वातावरण और पर्याप्त नियामक संसाधनों वाले देशों द्वारा लाइट-टच अप्रोच का समर्थन किया जाता है। इस रिपोर्ट के अनुसार, फिलीपींस का लाइट-टच अप्रोच का उपयोग आउटसोर्सिंग उद्योग पर अपनी “निर्भरता” की ओर है, जो देश में प्रमुख आर्थिक विकास चालक है।

प्रतिबंधात्मक या संरक्षित दृष्टिकोण का पालन करने वाले देश

सीमा पार डेटा प्रवाह के लिए “प्रतिबंधात्मक” या “संरक्षित” दृष्टिकोण का पालन भारत, चीन, इंडोनेशिया, नाइजीरिया, पाकिस्तान, कजाकिस्तान, रवांडा, रूसी संघ, तुर्की, सऊदी अरब और वियतनाम जैसे देशों द्वारा किया जाता है।

UNCTAD की सिफारिशें

  • UNCTAD ने सिफारिश की है कि वैश्विक समुदाय को सीमाओं के पार डिजिटल डेटा के मुक्त प्रवाह को सक्षम बनाना चाहिए। यह ऐसी गतिविधियों की अनुमति देने के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय फ्रेमवर्क बनाने का सुझाव दिया है।
  • UNCTAD के अनुसार, किसी भी वैश्विक ढांचे का मतलब निजी क्षेत्र के साथ-साथ डेटा के सरकारी उपयोग के लिए गोपनीयता की रक्षा में अतिरिक्त बोझ नहीं होगा।
  • इस प्रकार, एक नए नियामक ढांचे की आवश्यकता है।

Categories:

Tags: , , ,

« »

Advertisement

Comments