WhatsApp ने भारत सरकार पर मुकदमा क्यों किया?

जैसे ही भारत के नए आईटी (डिजिटल मीडिया) नियम (New IT (Digital Media) Rules of India) लागू हुए, व्हाट्सएप ने दिल्ली की अदालत में भारत सरकार पर मुकदमा दायर किया और इन नियमों को अवरुद्ध करने के लिए कहा।

व्हाट्सएप ने मुकदमा क्यों किया ?

व्हाट्सएप ने सरकार पर मुकदमा दायर किया, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि नया कानून सोशल मीडिया इकाइयों को गोपनीयता सुरक्षा को तोड़ने के लिए मजबूर करेगा। इस प्रकार, इस मुकदमे ने दिल्ली उच्च न्यायालय को “नए नियमों में से एक” को असंगत घोषित करने के लिए कहा है जो भारतीय संविधान के अनुसार गोपनीयता अधिकारों का उल्लंघन करता है क्योंकि इसके लिए सोशल मीडिया कंपनियों को “सूचना के पहले उत्पादक” (first originator of information) की पहचान करने की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, अगर व्हाट्सएप गलत काम करने वालों की पहचान करना शुरू कर देता है तो यह एप्प की एन्क्रिप्शन नीति को तोड़ देगा।

पृष्ठभूमि

भारत सरकार ने Information Technology (Intermediary Guidelines and Digital Media Ethics Code) Rules 2021 को लागू किया है। फरवरी में नए दिशानिर्देश जारी किए गए और व्हाट्सएप, फेसबुक, कू, इंस्टाग्राम और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को इसका पालन करने के लिए तीन महीने का समय दिया गया था।

डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए नए आईटी नियम 2021

नए नियमों के मुताबिक अब शिकायत निवारण तंत्र के तहत रेजिडेंट शिकायत अधिकारी की नियुक्ति की जाएगी। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सामग्री की सक्रिय निगरानी होगी और भारतीय यूजर्स के लिए मासिक अनुपालन रिपोर्ट बनाई जाएगी। अब, भारत के अधिकारी भी इन प्लेटफार्मों से किसी भी संदेश की उत्पत्ति की पहचान करने के लिए कह सकते हैं।

Categories:

Tags: , , , , ,

« »

Advertisement

Comments