करेंट अफेयर्स एवं हिन्दी समाचार सारांश

चन्द्रमा के दूरस्थ भाग पर चीन को कपास उगाने में सफलता मिली

चीन ने हाल ही में चन्द्रमा के दूरस्थ भाग पर स्पेसक्राफ्ट को लैंड करवाया था। इस लैंडर में 6 विभिन्न जविक प्रजातियों के 3 किलोग्राम के कनस्तर भी थे। इसमें कपास, अलसी, आलू तथा खमीर (yeast) शामिल हैं। इनमें से कपास के बीज अंकुरित हो गये हैं।

पृष्ठभूमि

चीन ने चंद्रमा के दूरस्थ भाग पर चांगई 4 अन्तरिक्षयान को उतारा। इस यान ने 3 जनवरी, 2018 को 10 बज कर 26 पर चन्द्रमा के दूरस्थ भाग पर लैंडिंग की।

इससे पहले चीन ने 7 दिसम्बर, 2018 को चन्द्रमा के पाशर्व हिस्से के लिए मिशन को लांच किया था। इस मिशन के तहत चन्द्रमा के पाशर्व हिस्से पर स्पेसक्राफ्ट सॉफ्ट लैंडिंग की योजना थी यह चीन का इस प्रकार का पहला मिशन है। चन्द्रमा के इस पाशर्व हिस्से के सम्बन्ध में काफी सीमित जानकारी उपलब्ध है, यह हिस्सा पृथ्वी की विपरीत दिशा में है।

चांगई 4 मिशन

चांगई 4 मिशन में एक लैंडर तथा एक रोवर इस्तेमाल का इस्तेमाल किया गया है। यह चीन का दूसरा चन्द्रमा लैंडर व रोवर है। इस मिशन के लैंडर का भार 1200 किलोग्राम है तथा इसकी समय अवधि 12 महीने है। जबकि रोवर का भार 140 किलोग्राम है तथा इसकी समय अवधि 3 मास है। यह जनवरी 2019 में चन्द्रमा की सतह पर उतेरगा। यह चन्द्रमा के दक्षिणी ध्रुव-ऐटकेन में वोन करमन क्रेटर में उतेरगा। इस मिशन को लॉन्ग मार्च 3बी राकेट की सहायता से लांच किया गया है।

 

Tags: , , , ,

Categories:

विज़न 2040 डॉक्यूमेंट : विमानन

केन्द्रीय नागरिक विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने वैश्विक विमानन शिखर सम्मेलन 2019 में विज़न 2040 डॉक्यूमेंट को जारी किया। वैश्विक विमानन शिखर सम्मेलन 2019 के आयोजन मुंबई में किया जा रहा है, इसकी थीम “फ्लाइंग फॉर आल” है।

विज़न 2040 डॉक्यूमेंट के पूर्वानुमान

  • इस दस्तावेज  के आकलन के अनुसार भारत में 200 हवाईअड्डों की आवश्यकता है तथा 1.1 अरब यात्रियों के लिए 40-50 अरब डॉलर के निवेश की आवश्यकता है।
  • 2040 में भारत का यात्री ट्रैफिक लगभग 1.1 अरब तक पहुँच जायेगा, वर्तमान में यह 187 मिलियन है।
  • अगले 15 वर्षों में भारत के अधिकतर हवाईअड्डों की क्षमता पूर्ण हो जाएगी तथा भारत को मौजूदा 99 हवाईअड्डों के संख्या को बढ़ाकर 200 तक पहुँचाना होगा।
  • दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों में दूसरे हवाईअड्डों की क्षमता भी पूर्ण हो जाएगी और इन शहरों में तीसरा हवाईअड्डा तैयार करना पड़ेगा।
  • मार्च 2018 में एयरलाइन फ्लीट की संख्या 622 है, मार्च 2040 तक यह संख्या 2,360 तक पहुँच जायेगी।

विज़न डॉक्यूमेंट में दिए गये सुझाव

  • भूमि अधिग्रहण, पुनर्वास तथा पुनर्गठन अधिनियम, 2013 में संशोधन तथा नए हवाईअड्डों के निर्माण में “लैंड पूलिंग” तकनीक का उपयोग करना।
  • वस्तु व सेवा कर दर में कमी।
  • हवाई टरबाइन इंधन (ATF) को वस्तु व सेवा कर के दायरे में लाया जाए।

विज़न डॉक्यूमेंट 2040 में रख-रखाव, रिपेयर और ओवरहॉल (MRO), मानव संसाधन विकास, हवाई सुरक्षा, ग्राउंड हैंडलिंग मैकेनिज्म, हवाई नौसंचालन तथा रिमोटली पायलटिड एयरक्राफ्ट (ड्रोन) पर भी बल दिया गया है।

Tags: , , , , ,

Categories:

रियल एस्टेट सेक्टर के GST से सम्बंधित मुद्दों के लिए किया गया मंत्री समूह का गठन

केंद्र सरकार ने रियल एस्टेट सेक्टर के वस्तु व सेवा कर (GST) से सम्बंधित मुद्दों के समाधान के लिए 7 सदस्यीय मंत्री समूह का गठन किया है। यह मंत्री समूह रियल एस्टेट की समस्याओं के समाधान के लिए सुझाव देगा।

मुख्य बिंदु

यह मंत्री समूह निम्नलिखित कार्य करेगा :

  • यह मंत्री समूह डेवलपर्स तथा ग्राहक दोनों की समस्याओं के लिए एक्शन प्लान का सुझाव देगा।
  • यह मंत्री समूह संयुक्त विकास समझौते में विकास अधिकार के हस्तांतरण तथा विकास अधिकार  पर लगाये जाने वाले GST की समीक्षा करेगा।
  • यह मंत्री समूह भूमि या किसी अन्य घटक को शामिल करने या न करने की वैधता की जांच करेगा तथा एक मूल्यांकन तंत्र का सुझाव देगा।
  • इस मंत्री समूह के प्रमुख गुजरात के उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल है। इसमें केरल, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र तथा उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री तथा गोवा के पंचायत मंत्री सदस्य के रूप में शामिल हैं।

 

Tags: , , , , ,

Categories:

Advertisement