पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स

इस श्रेणी में हिन्दी भाषा में पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

भारत-नॉर्वे समुद्री प्रदूषण पहल

भारत और नॉर्वे ने हाल ही में भारत-नॉर्वे समुद्री प्रदूषण पहल की स्थापना के लिए लैटर और इंटेंट पर हस्ताक्षर किये हैं। इस पत्र पर भारत की ओर से केन्द्रीय पर्यावरण, वन तथा जलवायु परिवर्तन मंत्रालय तथा नॉर्वे के विदेश मंत्रालय ने हस्ताक्षर किये हैं।

भारत-नॉर्वे समुद्री प्रदूषण पहल

नॉर्वे की प्रधानमंत्री की भारत यात्रा के दौरान भारत और नॉर्वे ने भारत-नॉर्वे महासागर वार्ता की स्थापना करते हुए महासागरों पर कार्य करने के लिए सहमती प्रकट की थी। दोनों देशों की सरकारों ने स्वच्छ व स्वस्थ महासागर के लिए अपने अनुभवों को साझा करने, महासागरीय संसाधनों के सतत उपयोग तथा नीली अर्थव्यवस्था के विकास करने के लिए सहमती प्रकट की थी।

भारत-नॉर्वे समुद्री प्रदूषण पहल पहला संयुक्त अभियान है, इसका द्वारा समुद्री प्रदूषण को कम करने का कार्य किया जायेगा। समुद्री प्रदूषण सबसे प्रमुख पर्यावरणीय समस्याओं में से एक है। भारत-नॉर्वे प्रदूषण पहल स्थानीय सरकारों को सतत कचरा प्रबंधन तकनीक, समुद्री प्रदूषण के स्त्रोत के सन्दर्भ में सूचना एकत्रीकरण तथा विश्लेषण व निजी सेक्टर के निवेश को बढ़ावा देने के लिए सहयोग देगा।

इस पहल द्वारा बाच को साफ रखने के कार्य में भी सहयोग दिया जाएगा। एक पायलट प्रोजेक्ट के तहत प्लास्टिक कचरे का उपयोग सीमेंट उत्पादन में इंधन के प्रतिस्थानापन के रूप में किया जाएगा।

Tags: , , , , , ,

Categories:

विश्व आर्द्रभूमि दिवस : 2 फरवरी

2 फरवरी को विश्व आर्द्रभूमि दिवस मनाया जाता है, इसकी थीम “आर्द्रभूमि व जलवायु परिवर्तन” है। इस थीम का उद्देश्य ग्लोबल वार्मिंग का सामना करने में आर्द्रभूमि जैसे दलदल तथा मंग्रोव के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाना है।

आर्द्रभूमि का महत्व

  • विश्व की 90%  आपदाएं जल से सम्बंधित होती हैं तथा यह तटीय क्षेत्रों में रहने वाले 60% लोगों को बाढ़ अथवा सूनामी से प्रभावित करती है।
  • आर्द्रभूमि एक प्राकृतिक व कुशल कार्बन सिंक के रूप में कार्य करता है। उदाहरण के लिए दलदलीय काई भूमि के केवल 3% हिस्से  पर फैली हुई है, परन्तु यह विश्व भर सभी वनों के मुकाबले दोगुनी मात्र में कार्बन को अवशोषित करने की क्षमता रखती है।
  • आर्द्रभूमि जलवायु सम्बन्धी आपदाओं के विरुद्ध बफर के रूप में कार्य करती हैं, इससे जलवायु परिवर्तन के आकस्मिक प्रभावों से बचा जा सकता है।

पृष्ठभूमि

विश्व आर्द्रभूमि दिवस का उद्देश्य आर्द्रभूमि के संरक्षण की ओर ध्यान केन्द्रित करना है जो मानव गतिविधि से प्रभावित हो सकता है। आर्द्रभूमि की नष्ट होने की दर लगभग 1% है जो की वनों के नष्ट होने की दर से काफी अधिक है। 2 फरवरी, 1971 को ईरान के शहर रामसर में रामसर कन्वेंशन पर हस्ताक्षर किये गये थे, इसका उद्देश्य आर्द्रभूमि के संरक्षण के लिए कार्य करना है।

Tags: , , , , , ,

Categories:

बाघ संरक्षण पर समालोचना सम्मेलन

बाघ संरक्षण पर समालोचना सम्मेलन का आयोजन नई दिल्ली में किया जा रहा है। इस सम्मेलन में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जायेगी। इसमें वन्यजीव तस्करी के साथ वैश्विक बाघ रिकवरी कार्यक्रम की स्थिति पर भी चर्चा की जाएगी।

इस सम्मेलन का आयोजन ग्लोबल टाइगर फोरम द्वारा किया राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण, WWF , वन्यजीव संरक्षण ट्रस्ट (WCT) तथा भारतीय वन्यजीव ट्रस्ट (WTI) के साथ मिलकर किया जा रहा है।

वैश्विक बाघ रिकवरी कार्यक्रम

वैश्विक बाघ रिकवरी कार्यक्रम का उद्देश्य टाइगर रेंज देशों को सशक्त बनाना है तथा बाघों के संरक्षण के लिए कार्य करना है। वैश्विक बाघ रिकवरी कार्यक्रम के तहत 2022 तक बाघों की संख्या को दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए बाघों के प्राकृतिक आवास का संरक्षण अति आवश्यक है। तथा बाघों के अवैध शिकार तथा व्यापार पर रोक लगाने की आवश्यकता है। इसके लिए स्थानीय समुदायों का सहयोग बहुत ज़रूरी है। यह भारत में आयोजित किया जाने वाले दूसरा बाघ संरक्षण सम्मेलन है। इसके अतिरिक्त भारत पड़ोसी देशों बांग्लादेश, भूटान और नेपाल के साथ चर्चा के लिए एक बैठक का आयोजन भी करेगा।

Tags: , , ,

Categories:

Advertisement