करेंट अफेयर्स - मई, 2018

इस श्रेणी में GKToday में मई, 2018 में प्रकाशित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

रेल मंत्रालय की आधुनिक ई-टिकट प्रणाली

केंद्रीय रेल मंत्रालय ने भारतीय रेलवे के ऑनलाइन यात्रा पोर्टल (www.irctc.co.in) पर अपनी आधुनिक ई-टिकट (NGeT – Next Generation e-Ticketing) प्रणाली का नया यूजर इंटरफेस लॉन्च किया है. भारतीय रेलवे ने नई ऑनलाइन टिकट बुकिंग प्रणाली (एनजीईटी प्रणाली) के माध्यम से, यात्रा की योजना और टिकटों की खरीद को स्वचालित करके इसे उपयोगकर्ता के अनुकूल, आसान और रेल टिकट बुकिंग का सुगम तरीका प्रदान किया है.

इसे प्रौद्योगिकी की शक्ति का उपयोग करने और भारत के नागरिकों के जीवन को आसान बनाने में केंद्र सरकार की डिजिटल इंडिया की पहल के हिस्से के रूप में लॉन्च किया गया है.

आधुनिक ई-टिकट प्रणाली के नए यूजर इंटरफेस की विशेषताएं

इस नए इंटरफेस का उपयोग करके अब उपयोगकर्ता सिस्टम में लॉग-इन किए बिना ही ट्रेनों के बारे में जानकारियां ले सकते हैं, और सीटों की उपलब्धता की जांच भी कर सकते हैं, जिससे उपयोगकर्ताओं का समय बच जाएगा. अब उपयोगकर्ता वेबसाइट को आसानी से देखने के लिए वेबसाइट का फ़ॉन्ट आकार भी बदल सकते हैं.

इस नए यूजर इंटरफेस पर श्रेणी-वार, रेलगाड़ी-वार, गंतव्‍य–वार, प्रस्‍थान और आगमन समय-वार और कोटा-वार, फिल्‍टर की व्‍यवस्‍था भी की गई है, जिससे यात्रियों को उनकी यात्रा के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सके. यह इंटरफेस ट्रेन के बारे में सभी जानकारीयों को व्यवस्थित रूप से एक ही स्‍क्रीन पर उपलब्‍ध करता है, जिसमें ट्रेन नंबर, ट्रेन का नाम, प्रस्‍थान व गंतव्य स्टेशन, उनके बीच की दूरी, और रेल के आगमन और प्रस्थान का समय शामिल है. इसमें ‘माई ट्रांजैक्‍शंस’ जैसी भुगतान की नई सुविधाएं भी शामिल हैं, जिससे उपयोगकर्ता को यात्रा तिथि पर आधारित बुक किए गए टिकट, बुकिंग तिथि, आगामी यात्रा और पूर्ण हो चुकी यात्रा के बारे में जानकारी मिल सकेगी. इसमें प्रतीक्षा सूची की पूर्व सूचना भी शामील की गई है, जो उपयोगकर्ता को प्रतीक्षा-सूची या आरएसी टिकट की पुष्टि होने की संभावना प्रदान करने की अनुमति देगी.

Tags: , , , , , ,

Categories:

अंधापन दूर करने हेतु पहला 3डी प्रिंटेड मानव कॉर्निया विकसित किया गया

पहली बार वैज्ञानिकों ने 3डी प्रिंटेड मानव कॉर्निया का निर्माण किया है. इससे नेत्रदान करने वालों की कमी दूर करने और दृष्टि बाधित लाखों लोगों को आँखों की रोशनी लौटाने में मदद मिल सकेगी .
कॉर्निया नेत्र की बाहरी परत के रूप में दृष्टि को फोकस करने में अहम भूमिका निभाता है.
यह शोध एक्सपेरिमेंटल आई रिसर्च में प्रकाशित हुआ. जिसमे बताया गया है कि किस तरह से किसी स्वस्थ दानकर्ता के कॉर्निया की स्टेम सेल को एकसाथ मिलाकर दृष्टिहीनता का समाधान निकाला जा सकता है.

कॉर्निया

गंदगी और बैक्टीरिया से बचाने तथा ध्यान केंद्रित करने में कॉर्निया की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. यह आंख की बाहरी परत पर होती है, इसे चोट लगने का भी खतरा बना रहता है। दुनिया में लगभग 10 मिलियन लोग ट्रेकोमा जैसे संक्रामक विकारों के कारण कॉर्नियल अंधापन के शिकार होते हैं, और आसानी से उपलब्ध प्रत्यारोपण की कमी के कारण समस्याओं का सामना करते हैं.

Tags: , , , ,

Categories:

भारत और विश्व बैंक के बीच प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना हेतु 50 करोड़ डॉलर की अतिरिक्त सहायता के लिए समझौता हुआ

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के तहत भारत सरकार और विश्व बैंक के बीच ग्रामीण सड़क परियोजना को अतिरिक्त वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने हेतु 50 करोड़ डॉलर के कर्ज के लिए समझौता हुआ.
ग्रामीण विकास मंत्रालय की इस परियोजना के अंतर्गत 7,000 किलोमीटर लंबी सड़कें बनाई जानी हैं, जिसमें से 3,500 किलोमीटर का निर्माण हरित प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से किया जाएगा.
वर्ष 2004 से विश्व बैंक पीएमजीएसवाई को सहयोग दे रहा है. लगभग 35,000 किलोमीटर ग्रामीण सड़कों का निर्माण और सुधार इसके अंतर्गत किया जा चुका है, जिससे लगभग 80 लाख लोगों को फायदा हुआ है.

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 25 दिसम्बर, 2000 को शुरू की गई थी. इस योजना का प्रमुख उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क-सम्पर्क से वंचित गांवों को, 500 या इससे अधिक जनसंख्या वाले गाँव (पहाड़ी और रेगिस्तानी क्षेत्रों में 250 व्यक्ति) को भारत निर्माण के अंतर्गत, बारह मासी सड़कों से समयबद्ध तरीके से जोड़ा जा सके.

Tags: , , , ,

Categories:

Advertisement