करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) - अक्तूबर, 2018

महिंदा राजपक्षे ने ली श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री के रूप में शपथ

हाल ही में श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे को देश का नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया, वे रानिल विक्रमसिंघे की जगह प्रधानमंत्री बने। उन्होंने अपने मंत्रिमंडल के साथ प्रधानमंत्री पद की शपथ ले ली है। उन्होंने वित्त मंत्रालय का प्रभार अपने पास रखा है।

पृष्ठभूमि

पिछले कुछ समय में राष्ट्रपति सिरिसेना और विक्रमसिंघे के बीच तनाव था, इसके चलते सिरिसेना के दल ने गठबंधन सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया। राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना के राजनीतिक मोर्चे यूनाइटेड पीपल्स फ्रीडम अलायन्स (UPFA) ने रानिल विक्रमसिंघे की पार्टी यूनाइटेड नेशनल पार्टी (UNP) के साथ गठबंधन की सरकार से अपने समर्थन वापस ले लिया।  वर्ष 2015 में इस गठबंधन सरकार का निर्माण हुआ था, जब मैत्रीपाला सिरिसेना रानिल विक्रमसिंघे के समर्थन से राष्ट्रपति बने थे।

मैत्रीपाला सिरिसेना द्वारा महिंदा राजपक्षे को प्रधानमंत्री बनाये जाने पर श्रीलंका में संवैधानिक संकट खड़ा हो सकता है। श्रीलंकाई संविधान के 19वें संशोधन के मुताबिक विक्रमसिंघे को बहुमत के बिना पद से नहीं हटाया जा सकता था। फिलहाल 225 सदस्यीय श्रीलंकाई संसद के 126 सदस्यों ने संसद सत्र बुलाने की मांग रखी है, इसके लिए 126 सांसदों ने अध्यक्ष को याचिका सौंपी है।

महिंदा राजपक्षे

महिंदा राजपक्षे का जन्म 18 नवम्बर, 1949 को ब्रिटिश श्रीलंका के दक्षिणी प्रांत में हुआ था। वे 6 अप्रैल, 2004 से 19 नवम्बर, 2005 के दौरान श्रीलंका के 18वें प्रधानमंत्री रहे। इसके बाद 19 नवम्बर, 2005 से 9 जनवरी, 2015 तक वे श्रीलंका के 6वें राष्ट्रपति रहे।

Tags: , ,

Categories:

जापान बनेगा अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन का 48वां सदस्य

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जापान दौरे के दौरान जपान ने अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होने के लिए पुष्टि की, इसके साथ ही जापान अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन के समझौते की पुष्टि करने वाला 48वां देश बन गया है। जापान अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन में शामिल होने के समझौते पर हस्ताक्षर करने वाला 71वां देश है।

अंतर्राष्ट्रीय सोलर गठबंधन

अंतर्राष्ट्रीय सोलर गठबंधन की शुरुआत भारत और फ्रांस ने मिलकर नवम्बर 2015 में COP 21 संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के दौरान की थी। इसका फ्रेमवर्क समझौता दिसम्बर, 2017 में लागू हुआ था। इसका स्थापना दिवस 11 मार्च, 2018 को मनाया गया था। इसका मुख्यालय हरियाणा के गुरुग्राम में राष्ट्रीय सौर उर्जा संस्थान (NISE) में स्थित है। यह ऐसी पहली अंतर्राष्ट्रीय अंतरसरकारी संधि है जिसका मुख्यालय भारत में स्थित है।

ISA का उद्देश्य सौर उर्जा से परिपूर्ण देशों को एकजुट करके सौर उर्जा उत्पादन को बढ़ावा देना है। बड़ी मात्रा में सौर उर्जा उत्पादन के कारण इसकी उत्पादन लागत भी कम आएगी। सौर उर्जा उत्पादन के सदस्य देशों में अनुसन्धान व विकास कार्य में मिलकर काम करेंगे।

Tags:

Categories:

असम में शुरू हुआ राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल शिखर सम्मेलन

असम के काजीरंगा में सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल पर राष्ट्रीय शिखर सम्मेलन शुरू हुआ। यह सम्मेलन तीन दिन तक चलेगा। इस सम्मलेन के उद्घाटन के अवसर पर असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा मौजूद रहे।

मुख्य बिंदु

इस सम्मेलन का उद्देश्य स्वास्थ्य क्षेत्र में राज्यों तथा संगठनों द्वारा क्रियान्वित गुड प्रैक्टिसेज तथा नवोन्मेष को साझा करना है। यह राष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल शिखर सम्मेलन का 5वां संस्करण है। इस सम्मेलन में अश्विनी कुमार चौबे (स्वास्थ्य व परिवार कल्याण राज्य मंत्री), अनुप्रिया पटेल, डॉ. हिमंत बिस्वा शर्मा (असम के स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री) इत्यादि गणमान्य व्यक्ति हिस्सा लेंगे। इससे देश के विभिन्न राज्यों में स्वास्थ्य क्षेत्र से सम्बंधित नवीन उत्पादों व प्रक्रियाओं को क्रियान्वित करने के लिए प्रेरित किया जायेगा।

Tags: , , , ,

Categories:

Advertisement