करेंट अफेयर्स एवं हिन्दी समाचार सारांश

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल द्वारा 49वां स्थापना दिवस मनाया गया

गृह मंत्री ने 36 जवानों को इस अवसर पर उत्कृष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया। स्थापना दिवस कार्यक्रम के दौरान जवानों ने पोल मलखम और सबाते मार्शल आर्ट के करतब के साथ साथ जवानों ने भीषण आग को आसानी से काबू करना भी दिखाया। महिला कमांडो ने मलखम का करतब दिखाया।

उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने CISF कर्मियों को स्थापना दिवस की शुभकामनाएं भी दी है। उप-राष्ट्रपति ने कहा कि CISF कर्मियों की सेवाओं पर पूरा भारत गर्व करता है। साथ ही उप-राष्ट्रपति ने कहा कि ‘संरक्षण व सुरक्षा’ के ध्येय वाक्य वाली बहुकौशल युक्त सुरक्षा एजेंसी देश के सभी महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा करती है।

प्रधानमंत्री जी ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के उनचासवें स्थापना दिवस पर शुभकामनाएं दी । प्रधानमंत्री ने कहा कि CISF ने महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा आवश्यकताओं को प्रभावी रूप से पूरा कर खुद को प्रतिष्ठित किया है।

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (Central industrial security force)अर्धसैनिक बल हैं, जिसका कार्य सरकारी कारखानो एवं अन्य सरकारी उपक्रमों को सुरक्षा प्रदान करना है। यह देश के विभिन्न महत्वपूर्ण संस्थानों की भी सुरक्षा करता है। इस बल का गठन 10 मार्च 1969 में हुआ था। इस बल की संख्या लगभग 1.50 लाख है। सरकारी उपक्रमों की सुरक्षा के आलावा देश के आंतरिक सुरक्षा,विशिष्ट लोगों की सुरक्षा,मेट्रो,परमाणु संस्थान,ऐतिहासिक धरोहरों,आदि की भी सुरक्षा करता है।

Tags: , , , ,

Categories:

निर्वाचन प्रबंधन हेतु क्षमता निर्माण

आईईआईडीईएम (India International Institute for Democracy and Election Management – IIIDEM), विदेश मंत्रालय के भारत तकनीकी और आर्थिक सहयोग (Indian Technical and Economic Cooperation – ITEC) कार्यक्रम के तहत 12 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम, ‘निर्वाचन प्रबंधन हेतु क्षमता संवर्द्धन’ (Capacity Development for Election Management) का आयोजन किया जा रहा है।

-कार्यक्रम का संचालन 5 से 16 मार्च, 2018 तक किया जाएगा।
-कार्यक्रम को ऐसे तरीके से विकसित किया गया है कि निर्वाचन प्रबंधन प्रक्रिया के प्रत्‍येक आयाम पर प्रकाश डाले। निर्वाचन आयोग की संरचना और कार्यप्रणाली, इसकी स्‍वतंत्रता व पारदर्शिता आदि तत्त्व इन आयामों में शामिल हैं।
-प्रशिक्षण कार्यक्रम में चुनाव प्रक्रिया पर आधारित एक पाठ्यक्रम शामिल किया गया है।
-चुनाव संचालन में क्षेत्रीय स्‍तर पर समस्‍याएँ आती हैं, इसलिये चुनावकर्मियों का प्रशिक्षण आवश्‍यक है। यह इसलिये भी ज़रूरी हैं क्‍योंकि निर्वाचन प्रबंधन के विभिन्‍न चरणों में प्रौद्योगिकी का उपयोग बढ़ता जा रहा है।

पृष्ठभूमि

-विदेश मंत्रालय के तहत विकास सहयोग प्रशासन का गठन जनवरी 2012 में किया गया था।
-डीपीए-2 विदेश मंत्रालय की नोडेल एजेंसी है, जो क्षमता निर्माण कार्यक्रमों का आयोजन करती है। इसमें आईटीईसी भी शामिल है।
-सामान्‍य तौर पर आईटीईसी कार्यक्रम की प्रकृति द्विपक्षीय है। लेकिन हाल के वर्षों में आईटीईसी संसाधनों का उपयोग क्षेत्रीय और अंतर-क्षेत्रीय कार्यक्रमों के संदर्भ में भी किया जा रहा है।

Tags: , , , ,

Categories:

उच्चतम न्यायालय ने राइट टू लिविंग विल को दी मंजूरी

एक ऐतिहासिक फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने इच्छा मृत्यु से जुडे मामले में लिविंग विल के अधिकार को हरी झंडी दे दी है। साथ ही कोर्ट ने दिशा-निर्देश जारी कर नए नियम बनाए है। SC के मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली पांच जजों वाली संविधान पीठ ने फैसला सुनाते हुए कहा कि नागरिकों को सम्मान के साथ मरने का भी अधिकार है।

SC के पांच जजों की पीठ ने 11 अक्टूबर को इस याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रखा था। एक एनजीओ कॉमन कॉज ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर कहा था कि संविधान के आर्टिकल 21 के तहत जिस तरह नागरिकों को जीने का अधिकार दिया गया है, उसी प्रकार उन्हें मरने का भी अधिकार है।

लिविंग विल ?

जब कोई व्यक्ति अतिगंभीर बीमारी से पीड़ित हो और उसे लाइफ सपोर्ट की अति आवश्यकता हो जिसके बिना वो एक पल भी जीवित ना रह सके तब इस स्थिति को लिविंग विल की चरम स्थिति माना जाता हैं। यह उस वक़्त चरम पर माना जाता है जब बीमार व्यक्ति खुद से अपनी इच्छा व्यक्त नहीं कर पाता है।

निष्क्रिय इच्छामृत्यु

जब किसी व्यक्ति की ऐसी हालत हो जाये की जिंदगी से अच्छी मौत बन जाये ऐसे में उसकी मौत के लिए उसके लाइफ सपोर्ट को हटा दिया जाए है या उसे ऐसा कुछ दिया जाए जिससे वह मृत्यु को प्राप्त हो सके।

Tags: , , , ,

Categories:

Advertisement