भोपाल

केंद्र सरकार ने सीहोर में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान की स्थापना को दी मंज़ूरी

केन्द्रीय कैबिनेट ने राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान की स्थापना मध्य प्रदेश के सीहोर में किये जाने के मंज़ूरी दी, पहले इस संस्थान के लिए भोपाल का चयन किया गया था। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान देश में मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के लिए इस प्रकार का पहला संस्थान होगा।

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान

इस संस्थान की स्थापना सोसाइटीज रजिस्ट्रेशन एक्ट, 1860 के अंतर्गत की जाएगी। यह संस्थान दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत कार्य करेगा। इसका उद्देश्य मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे लोगों को पुनर्वास की सुविधा उपलब्ध करवाना, नीति निर्माण तथा मानसिक स्वास्थ्य क्षेत्र में एडवांस्ड अनुसन्धान को बढ़ावा देना है। इस संस्थान में नौ विभाग तथा केंद्र होंगे, इस संस्थान में मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के क्षेत्र में 12 कोर्स में डिप्लोमा, सर्टिफिकेट, ग्रेजुएट, पोस्ट-ग्रेजुएट तथा एम.फिल की डिग्री प्रदान की जाएगी।

लाभ: यह मानव संसाधन तथा मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के शोध के लिए सेंटर ऑफ़ एक्सीलेंस के रूप में कार्य करेगा। यह संस्थान मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से जूझ रहे लोगों के लिए प्रभावशाली मॉडल तथा प्रोटोकॉल सुझाने वाली संस्था भी होगी।

Tags: , , , ,

Categories:

मध्य प्रदेश के भोपाल में किया गया सुशासन पर क्षेत्रीय सम्मेलन का आयोजन

Regional Conference on Good Governance with Focus on Aspirational Districts सम्मेलन का आरम्भ मध्य प्रदेश के भोपाल में 10 सितम्बर को हुआ। इस सम्मेलन का आयोजन प्रशासनिक सुधार व जन शिकायत मंत्रालय द्वारा मध्य प्रदेश सरकार के साथ मिलकर किया गया। इस सम्मलेन में 12 राज्यों तथा दो केंद्र शासित प्रदेशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इस दो दिवसीय सम्मेलन में 5 पांच तकनीकी सत्र आयोजित किये गये।

सुशासन पर क्षेत्रीय सम्मेलन (Regional Conference on Good Governance)

अब तक प्रशासनिक सुधार व जन शिकायत मंत्रालय द्वारा 28 क्षेत्रीय सम्मेलनों का आयोजन किया जा चुका है। इस सम्मेलन का उद्देश्य नागरिकों के लिए बेहतर नीति निर्माण के सन्दर्भ में अनुभवों को साझा करने के लिए प्लेटफार्म प्रदान करना है। इसके द्वारा शासन को पारदर्शी, ज़िम्मेदार तथा नागरिक-मैत्रीपूर्ण बनाया जायेगा तथा ई-गवर्नेंस के माध्यम से जन सेवा में सुधार किया जायेगा।

Tags: , , , ,

Categories:

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल, मध्य प्रदेश में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान की स्थापना को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल, मध्य प्रदेश में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान की स्थापना को मंजूरी दे दी है। इसे दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत एक सोसाइटी के रूप में स्थापित किया जाएगा।

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान के मुख्य उद्देश्य हैं

० मानसिक बीमारी वाले व्यक्तियों को पुनर्वास सेवाएं प्रदान करना।
० मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के क्षेत्र में क्षमता निर्माण करना।
० मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास में नीति तैयार करना तथा उन्नत अनुसंधान करना।

मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के क्षेत्र में एनआईएमएचआर देश में अपने तरह का पहला संस्थान होगा।

दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग

दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग (सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्रालय) विकलांग व्‍यक्तियों के सशक्‍तीकरण का कार्य करता है। विकलांग व्‍यक्तियों में, दृष्टिबाधित, श्रवणबाधित, वाकबाधित, अस्थि विकलांग और मानसिक रूप से विकलांग व्‍यक्ति शामिल होते हैं। इनकी जनसंख्‍या वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार 2.68 करोड़ है जो देश की कुल जनसंख्‍या का 2.21 प्रतिशत है।

Tags: , , , ,

Categories:

Advertisement