हिंदी समाचार

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिका में राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा कर दी है, यह आपातकाल कांग्रेस की अनुमति के बिना  अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्मित करने के लिए की गयी है।

मुख्य बिंदु

अमेरिका में 30 प्रकार के राष्ट्रीय आपातकाल का प्रावधान है, इन्हें विभिन्न कारणों के लिए लागू किया जा सकता है। राष्ट्रीय आपातकाल अधिनियम, 1976 के तहत राष्ट्रपति में आपातकालीन शक्तियां निहित हैं। इस अधिनियम के द्वारा राष्ट्रपति को कुछ एक विशेष शक्तियां प्रदान की गयी हैं। 1976 के बाद अमेरिका में 58 बार आपातकाल घोषित किया जा चुका है।

कारण

  • राष्ट्रपति ट्रम्प ने सत्ता में आ जाने के बाद अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर अवैध प्रवास को रोकने के लिए दीवार के निर्माण का वादा किया था।
  • इसके लिए 322 किलोमीटर की सीमा की बाड़बंदी की जानी है, इसमें 5.7 अरब डॉलर का खर्च आएगा।
  • परन्तु अमेरिकी कांग्रेस ने इस प्रस्ताव को नामंज़ूर कर दिया गया जिसके बाद देश में 35 दिन तक आंशिक सरकारी शटडाउन रहा।
  • बाद में कांग्रेस ने 90 किलोमीटर की सीमा पर दीवार बनाने के लिए 1.4 अरब डॉलर मंज़ूर किये।
  • राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किये जाने के बाद राष्ट्रपति ट्रम्प संघीय बजट का उपयोग किसी और स्थान पर कर सकते हैं।

परिणाम

राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा के बाद राष्ट्रपति ट्रम्प को कई राजनीतिक तथा कानून समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। राष्ट्रीय आपातकाल के विरुद्ध दो मामले दायर किये जा चुके हैं। अमेरिकी कांग्रेस संयुक्त प्रस्ताव पारित करके आपातकाल को समाप्त कर सकती है, परन्तु यह अभी काफी मुश्किल है।

Tags: , , , , , , ,

Categories:

निजी क्षेत्र में नौकरी के लिए कन्नडिगा लोगों को कर्नाटक में प्रमुखता

कर्नाटक सरकार ने हाल ही में नियमों में संशोधन करते हुए निजी क्षेत्र में ग्रुप सी व डी श्रेणी की नौकरी कन्नडिगा लोगों को प्रमुखते देने का प्रावधान किया है।

मुख्य बिंदु

राज्य सरकार ने कर्नाटक औद्योगिक रोज़गार (स्थायी आदेश) नियम, 1961 में संशोधन करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय सरोजिनी महिषी रिपोर्ट की अनुशंसा के आधार पर किया गया है, इस रिपोर्ट में कन्नडिगा को निजी क्षेत्र में रोज़गार के लिए प्रधानता देने की अनुशंसा की गयी थी।

इन नए नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए लिए उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समितियों का गठन किया जाएगा।

सरोजिनी महिषी रिपोर्ट

कर्नाटक सरकार ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री सरोजिनी महिषी की अध्यक्षता में 1983 में एक समिति का गठन किया था। इस समिति के गठन का उद्देश्य कर्नाटक के निजी क्षेत्र में कन्नडिगा लोगों के लिए रोज़गार के अवसरों की अनुशंसा करना था। इस समिति की प्रमुख सिफारिशें निम्नलिखित हैं :

  •  सभी सरकारी विभागों तथा सरकारी उपक्रमों में कन्नडिगा लोगों को 100% आरक्षण दिया जाये।
  • केंद्र सरकार के सभी विभागों तथा सरकारी उपक्रमों की ग्रुप सी व ग्रुप डी नौकरियों में कन्नडिगा के लिए 100% आरक्षण।
  • केंद्र सरकार के सभी विभागों तथा सरकारी उपक्रमों की ग्रुप बी नौकरियों में कन्नडिगा के लिए न्यूनतम 80% आरक्षण।
  • केंद्र सरकार के सभी विभागों तथा सरकारी उपक्रमों की ग्रुप ए नौकरियों में कन्नडिगा के लिए 65% आरक्षण

Tags: , , , , ,

Categories:

15 फरवरी : अंतर्राष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस

प्रतिवर्ष15 फरवरी को अंतर्राष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस का उद्देश्य बच्चों में होने वाले कैंसर के प्रति जागरूकता फैलाना तथा कैंसर के गुणवत्तापूर्ण उपचार के लिए कार्य करना है। कैंसर बच्चों में बहुत बड़ा मृत्यु कारक है। विश्व में प्रतिवर्ष 3 लाख बच्चों में कैंसर के लक्षण पाए जाते हैं। गौरतलब है कि निम्न व माध्यम वर्गीय देशों में कैंसर से पीड़ित बच्चों की मृत्यु दर 80% है। जबकि विकसित देशों में कैंसर से पीड़ित 80% बच्चों का जीवन बच जाता है। अतः इस असमानता को कम करने की ज़रुरत है।

उद्देश्य

  • कैंसर का शीघ्र निदान
  • सस्ती व उच्च गुणवत्ता युक्ता दवाओं की उपलब्धता
  • बेहतर उपचार
  • कैंसर से पीड़ित बच्चों के बेहतर देखभाल
  • कैंसर से पीड़ित लोगों के लिए सतत करियर के विकल्प उपलब्ध करवाना

Tags: , , , ,

Categories:

Advertisement