हिंदी करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 7 फरवरी, 2019

1. हाल ही में सुर्ख़ियों में रहे GSAT-31 को किस स्थान से लांच किया गया?
उत्तर – फ्रेंच गुयाना
1 फरवरी, 2019 को भारत के GSAT-31 उपग्रह को सफलतापूर्वक फ्रेंच गुयाना से लांच किया गया, इसे एरियनस्पेस द्वारा लांच किया गया। यह एक भारी उपग्रह है, इसका भार 2,536 किलोग्राम है। इस उपग्रह की सहायता से भारत में इन्टरनेट कनेक्टिविटी को बढ़ावा मिलेगा। यह सैटेलाइट 15 वर्षों तक कार्य करेगा। इसका निर्माण इसरो ने किया है, यह एक संचार उपग्रह है। इस उपग्रह का उपयोग DTH टेलीविज़न सेवाओं, सेलुलर कनेक्टिविटी, टेलीविज़न अपलिंक इत्यादि में किया जायेगा। इस सैटेलाइट को एरियन 5 राकेट की सहायता से लांच किया गया।
2. हाल ही में लडू किशोर स्वेन का निधन हुआ, वे ओडिशा के किस निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा सांसद थे?
उत्तर –असका
हाल ही में बीजू जनता दल के नेता लडू किशोर स्वेन का निधन हुआ, वे 16वीं लोकसभा में ओडिशा के असका निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा सांसद थे।
3. महाराष्ट्र सरकार द्वारा किसकी अध्यक्षता में जनजातीय कल्याण योजनाओं की समीक्षा समिति का अध्ययन किया गया है?
उत्तर – विवेक पंडित
महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में जनजातीय वर्गों के लिए लागू की गयी कल्याणकारी योजनाओं के मूल्यांकन 17 सदस्यीय समिति का गठन किया है। इस समिति के अध्यक्ष पूर्व विधायक तथा श्रमजीवी संगठन के अध्यक्ष विवेक पंडित हैं। यह समिति रोज़गार अवसर, न्यूनतम श्रम दर तथा आजीविका इत्यादि अध्ययन करेगी। यह समिति जनजातीय क्षेत्रों के सभी बच्चों को शिक्षा मुहैया करवाने के लिए भी सुझाव देगी। यह समिति प्रत्येक तीन माह के बाद बैठक का आयोजन करेगी और सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।
4. 30वें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह 2019 की थीम क्या है?
उत्तर – सड़क सुरक्षा-जीवन रक्षा
केन्द्रीय सड़क परिवहन तथा उच्चमार्ग मंत्रालय द्वारा हाल ही में सड़क सुरक्षा सप्ताह की शुरुआत की गयी। इसका उद्देश्य लोगों को ट्रैफिक नियमों से अवगत करवाना तथा नियमों के पालन के लिए जागरूकता फैलाना है, इससे सड़क दुर्घटनाओं में होने वाले मौतों में कमी आएगी। सड़क सुरक्षा सप्ताह अभियान के लिए निजी फर्में, NGO तथा परोपकारी संगठन भी सरकार के साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं। सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन प्रतिवर्ष किया जाता है।
सड़क सुरक्षा सप्ताह 2019
भारत में 4 फरवरी से 10 फरवरी के बीच 30वें सड़क सुरक्षा सप्ताह 2019 का आयोजन किया जा रहा है। इस सप्ताह के दौरान निम्नलिखित गतिविधियाँ आयोजित की जायेंगी :
• इस जागरूकता अभियान के दौरान पैदल चलने वाले लोगों को भी सड़क सुरक्षा नियमों से अवगत करवाया जाएगा।
• वाहन चालकों को हेलमेट तथा सीटबेल्ट के उपयोग के महत्व के बारे में बताया जायेगा।
• हेलमेट के उपयोग तथा सड़क सुरक्षा के लिए चित्रकला प्रतियोगिता, वर्कशॉप, सेमिनार, स्कूटर रैली तथा प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा। इसके अलावा आल इंडिया रेडियो पर सड़क सुरक्षा के लिए वाद-विवाद का आयोजन किया जायेगा।
• वाहन चालकों के लिए निशुल्क मेडिकल चेक-अप शिविर का आयोजन किया जायेगा।
• इस दौरान वाहन चालन प्रशिक्षण के लिए वर्कशॉप का आयोजन किया जायेगा।
• स्कूली छात्रों को ट्रैफिक नियमों से अवगत करवाने के लिए ट्रैफिक नियमों से सम्बंधित कार्ड गेम्स, पजल, बोर्ड गेम्स इत्यादि का आयोजन किया जाएगा।
5. किस केन्द्रीय मंत्रालय ने हाल ही में शहरी समृद्धि उत्सव को लांच किया?
उत्तर – आवास व शहरी मामले मंत्रालय
5 फरवरी को केन्द्रीय आवास तथा शहरी मामले मंत्रालय ने शहरी समृद्धि उत्सव को लांच किया। इसका उद्देश्य शहरी आजीविका पर फोकस करना है। इस इवेंट के द्वारा दीनदयाल अन्तोदय योजना – राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन की पहुँच को ज़रूरतमंद लोगों तक पहुँचाना है।
दीनदयाल अन्तोदय योजना
दीनदयाल अन्तोदय योजना-राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन केंद्र द्वारा प्रायोजित योजना है। इस योजना का उद्देश्य निर्धन जनों को कौशल विकास के द्वारा स्थायी आजीविका के अवसर प्रदान करना है। इससे देश में निर्धनता को कम करने में सहायता मिलेगी। इसमें दो योजनाओं का समावेश किया गया है :
राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन : यह मिशन का शहरी भाग है, इसका क्रियान्वयन केन्द्रीय आवास व निर्धनता उन्मूलन मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन : यह मिशन का ग्रामीण भाग है, इसका क्रियान्वयन केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।
दीनदयाल अन्तोदय योजना- राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन का क्रियान्वयन
34 लाख शहरी निर्धन महिलाओं को स्वयं-सहायता समूहों में संगठित किया गया।
अब तक 8.5 लाख लोगों को सब्सिडाइज्ड ऋण दिए जा चुके हैं।
8.9 लाख उम्मीदवारों को कौशल प्रशिक्षण दिया जा चुका है, उनमे से 4.6 लाख लोगों को प्लेसमेंट भी मिल चुकी है।
16 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को चिन्हित किया जा चुका है तथा उनमे से आधे लोगों को पहचान पत्र जारी किये जा चुके हैं।
60,000 बेघर लोगों के लिए 1000 स्थायी शेल्टर स्थापित किये जा चुके हैं।
6. किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश ने हाल ही में जीरो फेटेलिटी कॉरिडोर शुरू किया?
उत्तर – दिल्ली
दिल्ली सरकार ने जीरो फेटेलिटी कॉरिडोर (शून्य मृत्यु गलियारा) लांच किया। इसका उद्देश्य दुर्घटनाओं पर रोक लगाना है। इसकी घोषणा दिल्ली के परिवहन मंत्री ने सड़क सुरक्षा सप्ताह के उद्घाटन समारोह के दौरान की।
जीरो फेटेलिटी कॉरिडोर
• आउटर रिंग पर भलस्वा चौक से बुराड़ी चौक के बीच 3 किलोमीटर के क्षेत्र को अध्ययन के लिए चुना गया है।
• चुने गये स्थान में चार ब्लैकस्पॉट्स हैं : बुराड़ी चौक, भलस्वा चौक, मुकुंदपुर चौक तथा जहांगीरपुरी बस स्टैंड।
• सड़क दुर्घटना, सड़क इंजीनियरिंग तथा रोड-यूजर इंगेजमेंट के आधार इस तील किलोमीटर के क्षेत्र का अध्ययन किया जायेया।
• इस दौरान इस स्थान पर पर्याप्त सुरक्षा भी उपलब्ध करवाई जायेगी तथा आपातकालीन सहायता भी उपलब्ध होगी।
इस पहल को परिवहन, स्वास्थ्य, शिक्षा, लोक निर्माण विभाग तथा दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के सहयोग से शुरू किया जा रहा है, इसका उद्देश्य दिल्ली में सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों पर रोक लगाना है। उपलब्ध डाटा के मुताबिक उपरोक्त क्षेत्र में पिछले दो वर्षों में 67 घटक दुर्घटनाएं हुई हैं। जीरो फेटेलिटी कॉरिडोर का उद्देश्य इस क्षेत्र में सड़क दुर्घटनाओं से होने वाली मौतों के स्तर को शून्य तक पहुँचाना है। इस पहल के प्रभाव का अध्ययन करने के बाद इस मॉडल को अन्य शहरों में भी शुरू किया जा सकता है।
7. हाल ही में सुर्ख़ियों में रही सेंटिनल जनजाति किस द्वीप की निवासी है?
उत्तर – नार्थ सेंटिनल द्वीप
नार्थ सेंटिनल द्वीप अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में स्थित है। इस द्वीप में प्राचीन जनजाति निवास करती है, इस जनजाति का बाहरी विश्व के साथ कोई संपर्क नहीं है और यह जनजाति बाहरी विश्व से संपर्क रखने की इच्छुक नहीं है। इसी कारण इस द्वीप पर प्रवेश करने वाले लोगों के साथ इस जनजाति द्वारा अक्सर हिंसक व्यवहार किया जाता है।
हाल ही में इस द्वीप पर अवैध रूप से प्रवेश करने वाले अमेरिकी नागरिक की हत्या इस जनजाति द्वारा की गयी। नार्थ सेंटिनल द्वीप पर प्रवेश करना कानून के मुताबित निषिद्ध है। अंदमान व निकोबार द्वीप (मूल जनजातियों की सुरक्षा), रेगुलेशन 1956 के द्वारा नार्थ सेंटिनल द्वीप में प्रवेश करने पर प्रतिबन्ध लगाया गया है। इस द्वीप का चित्र अथवा विडियो लेना भी कानूनी अपराध है।
नार्थ सेंटिनल द्वीप बंगाल की खाड़ी में अंदमान व निकोबार द्वीपसमूह में स्थित है। इसमें कुल 5 द्वीप शामिल हैं। इनका कुल क्षेत्रफल 59.69 वर्ग किलोमीटर है। वर्ष 2018 के अनुमानों के अनुसार नार्थ सेंटिनल द्वीप की जनसँख्या 40 से 400 के बीच में है।
8. राहत नामक मानवीय सहायता व आपदा अभ्यास का आयोजना किस राज्य में किया जायेगा?
उत्तर – राजस्थान
जयपुर, कोटा तथा अलवर में 11-12 फरवरी के दौरान आपदा राहत अभ्यास “राहत” का प्रदर्शन किया जायेगा।
मुख्य बिंदु
• भारतीय थलसेना के स्थान पर जयपुर बेस्ड सप्त शक्ति कमान संयुक्त मानवीय सहायता व आपदा राहत अभ्यास “राहत” का आयोजन करेगी।
• इस अभ्यास का आयोजन राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के साथ मिलकर किया जायेगा।
• इस अभ्यास में सशस्त्र सेना, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अनुक्रिया मैकेनिज्म (NDMRM), राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण तथा जिला स्तरीय संगठन हिस्सा लेंगे।
• इस अभ्यास का आयोजन जयपुर, कोटा तथा अलवर में एक साथ आयोजित किया जाएगा।
• इस अभ्यास में विभिन्न संगठनों के बीच आपसी तालमेल का प्रदर्शन किया जायेगा।
राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) एक वैधानिक संस्था है, यह केन्द्रीय गृह मंत्रालय के अधीन कार्य करती है। इसकी स्थापना वर्ष 2009 में की गयी थी, इसके प्रावधान आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 से लिए गये हैं। इसका कार्य प्राकृतिक अथवा मानव निर्मित आपदा में समन्वय के साथ शीघ्र अनुक्रिया करना है। यह संगठन राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरणों (SDMA) के साथ समन्वय, नीति निर्माण तथा दिशानिर्देश जारी करने का कार्य भी करता है। NDMA के बोर्ड में 9 सदस्य होते हैं, इसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है।
9. हाल ही में किस उच्च न्यायालय ने प्रतियोगी परीक्षाओं में नकारात्मक अंक के विरुद्ध निर्णय दिया?
उत्तर – मद्रास
मद्रास उच्च न्यायालय ने प्रतिष्ठित संस्थानों जैसे IIT की प्रवेश परीक्षा में नकारात्मक अंक देने को गलत बताया है, न्यायालय ने कहा है कि नेगेटिव मार्किंग के कारण बुद्धिमतापूर्ण अनुमान समाप्त हो जायेगा। यह सुनवाई एस. नेल्सन प्रभाकर नामक IIT JEE अभ्यार्थी की याचिका पर की गयी है।
10. हाल ही में सुर्ख़ियों में रही “दाक्षायनी” क्या है?
उत्तर – मादा हाथी
दाक्षायनी कैद में रहने वाले 88 वर्षीय मादा हाथी थी, हाल ही में उसकी मृत्यु केरल के तिरुवनंतपुरम में एक एक देखभाल केंद्र में हुई। वे एशिया की सबसे उम्रदराज़ कैद हाथी थी। उसे “गज मुथास्सी” कहा जाता है, यह खिताब उसे 2016 में दिया गया था।

« »

Advertisement

Comments

  • Kailash bhabar
    Reply

    Curent affairs

  • Kailash bhabar
    Reply

    Curent affairs

  • Kailash bhabar
    Reply

    Curent affairs

  • prince kumar
    Reply

    nice queastion

  • prince kumar
    Reply

    nice queastion

  • prince kumar
    Reply

    nice queastion

  • Jitendra pal singh
    Reply

    Nice

  • Jitendra pal singh
    Reply

    Nice

  • Jitendra pal singh
    Reply

    Nice

  • sonu chouhan
    Reply

    nice very halp full

  • sonu chouhan
    Reply

    nice very halp full

  • sonu chouhan
    Reply

    nice very halp full

  • Ashish
    Reply

    Thank u so much, for providing us very important informations

  • Ashish
    Reply

    Thank u so much, for providing us very important informations

  • Ashish
    Reply

    Thank u so much, for providing us very important informations

  • Ashish
    Reply

    thank u so much sir, for providing us very important informations

  • Ashish
    Reply

    thank u so much sir, for providing us very important informations

  • Ashish
    Reply

    thank u so much sir, for providing us very important informations

  • abhijeet
    Reply

    verygood sir

  • abhijeet
    Reply

    verygood sir

  • abhijeet
    Reply

    verygood sir

  • Mushahid
    Reply

    Sir kya ye UPSC ki preparation ke ly kaafi hn?

  • Mushahid
    Reply

    Sir kya ye UPSC ki preparation ke ly kaafi hn?

  • Mushahid
    Reply

    Sir kya ye UPSC ki preparation ke ly kaafi hn?

  • Sumit
    Reply

    Helpful for next exam thanks sir g

  • Sumit
    Reply

    Helpful for next exam thanks sir g